मालपुरा मामले में सरकार को उठाना चाहिए कदम : गुलाबचंद कटारिया

जयपुर। राजस्थान में नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया ने कहा है कि टोंक जिले के मालपुरा में असुरक्षित महसूस कर रहे परिवारों के मामले में राज्य सरकार को शीघ्र कोई कदम उठाया जाना चाहिए।

कटारिया ने इस मामले पर अपनी प्रतिक्रिया में कहा कि ऐसी जगहों पर सख्त कानून व्यवस्था केे लिए सख्त अधिकारियों की जरुरत होती हैं और इससे दोनों समाज में सद्भाव एवं विकास के काम को आगे बढ़ाया जा सकता है।

उन्होंने मालपुरा के पीड़ितों को सुरक्षा की जरुरत बताते हुए कहा कि वहां पीड़ित लोगों ने अपने घरों के आगे पोस्टर लगाकर सरकार को आगाह किया हैं कि उन्हें सुरक्षा दो, नहीं तो वे घर छोड़कर सुरक्षित जगहों पर जा रहे हैं। यह इस बात का सबूत हैं कि वह सुरक्षित नहीं हैं।

उन्होंने कहा कि ऐसे में सरकार को कोई कदम उठाया जाना चाहिए नहीं तो कोई बड़ी दुर्घटना भी हो सकती है और मालपुरा दुर्घटना अन्य जगहों पर भी दुर्घटना में परिणित हो सकती हैं।

कटारिया ने कहा कि वह पहले भी कह चुके हैं कि प्रदेश में मुख्मंत्री को अपने गृह विभाग के लिए एक सहयोगी मंत्री बना देना चाहिए ताकि वह पूरा समय देकर घटनाओं एवं समस्याओं का निस्तारण एवं मॉनटरिंग कर सके। उन्होंने कहा कि कानून व्यवस्था भगवान भरोसे नहीं चल सकती।

उल्लेखनीय है कि प्रदेश भाजपा ने मालपुरा में हिन्दू परिवारों के पलायन के मामले को लेकर अपनी तीन सदस्यीय एक जांच कमेटी भी भेजी जो रविवार को मालपुरा का दौरा करके लौटी है।