राजस्थान अक्षय ऊर्जा के क्षेत्र में दुनिया का सिरमौर बनने की क्षमता : अशोक गहलोत

Rajasthan has the potential to become the head of renewable energy - Gehlot
Rajasthan has the potential to become the world’s head in the field of renewable energy: Ashok Gehlot

जयपुर | राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि राजस्थान अक्षय ऊर्जा के क्षेत्र में दुनिया का सिरमौर बनने की क्षमता रखता है और राज्य सरकार इसे बढ़ावा देने के लिए पुरजोर प्रयास कर रही है।

गहलोत ने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के 75वें जयंती समारोह के तहत आज सुबह रामनिवास बाग के दक्षिणी द्वार से अक्षय ऊर्जा दौड़ को हरी झंड़ी दिखाकर रवाना करने के अवसर पर यह बात कही। उन्होंने कहा कि अक्षय ऊर्जा के क्षेत्र में राजस्थान देश ही नहीं दुनिया का सिरमौर बनने की क्षमता रखता है। सौर ऊर्जा उत्पादन की जो संभावनाएं यहां मौजूद हैं और कहीं नहीं हैं। राज्य सरकार अक्षय ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिए पुरजोर प्रयास कर रही है।

इस अवसर पर देश के विकास में गांधी के योगदान का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि राजीव गांधी भारत को 21वीं सदी में ले जाने का सपना रखते थे और भारत में अक्षय ऊर्जा की क्रांति भी उनकी दूरदर्शी सोच का परिणाम है।

गहलोत ने कहा कि राजीव गांधी की जयंती के अवसर पर सभी प्रदेशवासियों को अक्षय ऊर्जा के उपयोग को बढ़ावा देने का संकल्प लेना चाहिए। उन्होंने कार्यक्रम में उपस्थित युवाओं को अक्षय ऊर्जा को प्रोत्साहन देने की शपथ दिलाई और कहा कि पर्यावरण संरक्षण की दृष्टि से ऊर्जा के इस सर्वोत्तम विकल्प को अपनाने का संदेश जन-जन तक पहुंचाएं।

ऊर्जा विभाग तथा राजस्थान अक्षय ऊर्जा निगम की ओर से आयोजित इस कार्यक्रम में ऊर्जा मंत्री बी डी कल्ला, सरकारी मुख्य सचेतक महेश जोशी, खेल राज्यमंत्री अशोक चांदना, उपसचेतक महेन्द्र चौधरी तथा अन्य जनप्रतिनिधि एवं लोग मौजूद थे।