राजस्थान मंत्रालयिक कर्मचारी महासंघ सरकार से खफा, प्रदर्शन

अजमेर। राजस्थान मंत्रालयिक कर्मचारी महासंघ के बैनर तले बुधवार को कर्मचारियों ने अपनी लंबित मांगों को लेकर राज्य सरकार के खिलाफ कलेक्ट्रेट परिसर के बाहर जमकर प्रदर्शन किया।

इससे पहले सभी कर्मचारी डाक बंगले में जमा हुए तथा वहां से रैली के रूप में कलेक्ट्रेट पहुंचे। कलेक्ट्रेट के बाहर मुख्य गेट पर जमकर नारेबाजी की। कर्मचारियों के एक शिष्ट मंडल ने कलेक्टर आरती डोगरा को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा।

संघ के जिलाध्यक्ष मुकेश धारू ने कहा कि मंत्रालयिक कर्मचारीे अपनी मांगों के संबंध में काफी समय से अपने ज्ञापन प्रस्तुत करते आ रहे हैं। इसी क्रम में एक बार फिर नौ सूत्रीय मांगपत्र कलेक्टर के जरिए मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को भेजा गया है।

ये हैं मुख्य मांगे

1 ग्रेड पे3600 एवं वेतन विसंगति को दूर करना।
2 सचिवालय के समान वेतन एवं भत्ते दिया जाए।
3 शेष रहे उच्च पदोन्नति के पद सृजित करने के साथ पंचायती राज विभाग के लिए उच्च पदोन्नती के पदों का आवंटन कराने एवं राजस्व विभाग के उच्च पदों में आज तक पदोन्नती नहीं होने के क्रम में।
4 वित्त विभाग की सोलंकी कमेटी की रिपोर्ट के क्रम में।
5 वेतन कटौती बंद करना।
6 निदेशालय का गठन।
7 शैक्षिक योग्यता स्नातक किए जाने बाबत।
8 शिक्षा विभाग में पदों मेें कमी को वापस लिया जाना।
9 कनिष्ठ सहायक के पद को टंकण मुक्त किए जाने के क्रम में।