राजस्थान मंत्रालिक कर्मचारी परिषद जिला शाखा अजमेर की बैठक

अजमेर। राजस्थान मंत्रालिक कर्मचारी परिषद (बीएमएस) ज़िला शाखा अजमेर की विशेष बैठक प्रदेश महामंत्री रणधीर सिंह कच्छावा की अध्यक्षता में रविवार को ईटी सेल परिसर में आयोजित की गई।

जिला मंत्री मनोज वर्मा ने बताया कि कर्मचारी परिषद् व सभी विभागीय समितियों की बैठक में प्रदेश नेतृत्व के साथ मंत्रिमंडलिय उप समिति तथा सभी विभागों के सचिव के साथ 7 अगस्त को होने जा रही वार्ता के बिंदुओं एवं कर्मचारियों के ज्वलंत समस्याओं पर विचार विमर्श किया गया।

मंत्रालयिक कर्मियों की ग्रेड पे सुधार की लम्बित मांग व हाल ही में जारी अनुसूची पांच को वापस लेने, सहायक प्रशासनिक अधिकारी को ग्रेड पे-4200 देकर राजपत्रित का दर्जा देने के मुद्दे को प्रमुखता से उठाया जाएगा।

उन्होंने कहा की राज्य सरकार के सभी 46 संवर्गो में तीसरा पद राजपत्रित है जबकि मंत्रालयिक संवर्ग़ के चोथे पद अतिरिक्त प्रशासनिक अधिकारी को राजपत्रित का दर्जा दिया गया है। संवर्ग़ की जारी विभिन्न विसंगतियों व सभी संगठनों द्वारा पूर्व में 8 जुलाई को प्रेषित 21 सूत्रीय मांग पत्र पर सरकार को शीघ्र निर्णय करना होगा नहीं तो कर्मचारियों में बढ़ते आक्रोश की परिणिता सरकार व आम जनता सहित कर्मचारी हित में उचित नहीं है।

बैठक में अजमेर जिला अध्यक्ष अनिल जैन, ब्यावर जिला अध्यक्ष वर्धमान जैन, केकडी ज़िला मंत्री शिवसिंह देवड़ा, अजमेर जिला कोषाध्यक्ष दीपक मंडोलिया, विधि मंत्री जय गोयल, कार्यकारी अध्यक्ष लक्ष्मण सिंह गौड, संगठन मंत्री मुकेश मूंदडा, वरिष्ठ उपाध्याय मिश्री लाल, सह संगठन मंत्री गजेंद्र सिंह राठौड़, सदस्य मनोज महंदिरत्ता, राजेंद्र सुनरिया सहित सभी पदाधिकारी उपस्थित रहे।