राजनाथ सिंह: कश्मीर के लिए जरुरत पडने पर फिर सीमा पार करेंगे

Rajnath Singh After the need for Kashmir then cross the border
Rajnath Singh After the need for Kashmir then cross the border

SABGURU NEWS | नयी दिल्ली केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि कश्मीर हमारा है और हमसे कोई भी इसे छीन नहीं सकता है और संकेत दिया कि यदि जरुरत पड़ी तो देश की सुरक्षा के लिए फिर से सीमा को पार करने में नहीं हिचकिचायेंगे

श्री सिंह ने आज यहां एक टेलीविजन सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा “कोई भी कश्मीर को हमसे ले जा नहीं सकता है।” उन्होंने कहा कि जो लोग जिहाद का प्रचार कर रहे हैं। मैं उन्हें कहना चाहता हूं कि पहले वह स्वयं जिहाद की सच्चाई को समझें और उसके बाद कश्मीर के हमारे बच्चों को बहकाने का प्रचार करें।

उन्होंने कहा “कश्मीर के युवा बच्चे सभी हमारे बच्चे हैं और सरकार ने पहली बार पत्थरबाजी में शामिल होने वालों को माफ कर दिया है। कश्मीर में पत्थरबाजी की 9000 मामले थे।”

देश की बाह्य चुनौतियों का उल्लेख करते हुए श्री सिंह ने कहा कि भारत पड़ोसियों से अच्छे संबंध चाहता है, किंतु पाकिस्तान इसे समझ नहीं रहा। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने इसको स्पष्ट किया था। उन्होंने कहा “मित्र बदले जा सकते हैं किंतु पड़ोसी नहीं। हम पाकिस्तान के साथ अच्छे संबंध चाहते हैं, लेकिन पाकिस्तान सुनने को तैयार नहीं है। पाकिस्तान संयुक्त राष्ट् द्वारा चिन्हित आतंकवादी हाफीज सईद को पनाह दे रहा है जिसने बडी संख्या में लोगों की हत्याएं की है।”

पाकिस्तान को इशारों में चेतावनी देते हुए गृहमंत्री ने कहा, “हम चाहते हैं कि आप यह विश्वास करें कि हम सीमा को सुरक्षित रखेंगें। जरुरत पड़ी तो हम अपने देश को बचाने के लिए सीमा को पार करेंगे।” उन्होंने कहा “ जिस रफ्तार से हमारा देश विकसित हो रहा है मेरा मानना है कि वह समय बहुत दूर नहीं है जब हम विश्वास के पांच देशों की पंक्ति में खडे होंगे और हम विश्व के सुपर पावर बनेंगे।”