राजनाथ व गडकरी ने हरक्यूलिस विमान से उतरकर बनाया इतिहास

जयपुर। राजस्थान में पाकिस्तान सीमा से 40 किलोमीटर पहले राष्ट्रीय राजमार्ग 925 पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और केन्द्रीय सडक परिवहन मंत्री नीतिन गडकरी ने आज हरक्यूलिश विमान से उतरकर नया इतिहास बनाया।

सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण इस राष्ट्रीय राजमार्ग का निर्माण राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ने किया है। इसके तहत बाकासर गांव के समीप 39.95 करोड़ रूपए की लागत से एयर स्ट्रीप बनाई गई है।

केन्द्रीय मंत्रियों ने दिल्ली से उडान भरी थी तथा जालोर जिले में अडगांव में बनी आपात हाईवे पट्टी पर उतरे। केन्द्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंन्द्र सिंह शेखावत चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल विपिन रावत और वायुसेना अध्यक्ष आरकेएस भदौरिया भी इस अवसर पर उपस्थित थे। इस हवाई पट्टी पर आज सुखोई और जगुआर विमानों ने टच डाऊन किया। एक सुखोई विमान को हवाई पट्टी पर पार्क भी किया गया।

आसमान पर मंडराये हरक्युलिस, जगुआर एवं सुखोई विमान की गड़गड़ाहट के बीच रक्षामंत्री तथा उपस्थित मेहमानों ने तालियां बजाकर हर्षोल्लास जाहिर किया। इस अवसर पर आयोजित समारोह में रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने एक भारत सशक्त भारत का नारा देते हुए कहा कि रक्षा और विकास एक दूसरे के पूरक है।

इस मौके पर गडकरी ने कहा की देश की सीमाओं की रक्षा और सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण ये हाईवे रन-वे देश की सुरक्षा को और भी मजबूती देगा। हम देश में अन्य 19 जगहों पर राजस्थान में फलौदी–जैसलमेर मार्ग और बाड़मेर–जैसलमेर मार्ग पर, पश्चिम बंगाल में खड़गपुर–बालासोर मार्ग, खड़गपुर–क्योंझर मार्ग और पानागढ़/ केकेडी के पास, तमिलनाडु में चेन्नई–पुदुचेरी मार्ग पर, आन्ध्र प्रदेश में नेल्लौर–ओंगोल मार्ग और ओंगोल–चिलाकालुरीपेट मार्ग पर, हरियाणा में मंडी डबवाली से ओढन मार्ग पर, पंजाब में संगरूर के पास, गुजरात में भुज–नलिया मार्ग पर और सूरत–बड़ोदरा मार्ग पर, जम्मू और कश्मीर में बनिहाल–श्रीनगर मार्ग और लेह/न्योमा क्षेत्र में तथा असम में जोरहाट-बाराघाट मार्ग, शिवसागर के पास, बागडोगरा–हाशिमारा मार्ग, हाशिमारा–तेजपुर मार्ग और हाशिमारा–गुवाहाटी मार्ग पर आपातकाल लैंडिंग सुविधाओं को विकसित कर रहे हैं।

जालोर : हाईवे पर बनी हवाई पट्टी का राजनाथ, गडकरी ने किया उद्घाटन