अजमेर में दुकानों पर सजी राखियां, खरीदारी को उमडी बहनें

अजमेर। भाई और बहन के बीच अटूट रिश्ते के पर्व रक्षाबंधन से पहले ही शहर के गली मोहल्लों तक की दुकानों पर राखियां सजीं आने लगी हैं। भाई व बहन के बीच प्रेम और आत्मीय रिश्‍ते को मजबूती से बांधे रखने वाले रक्षाबंधन पर्व को लेकर बाजार गुलजार हैं।

पवित्र धागों के इस त्योहार में को लेकर बाजार में राखियों की वैराटियों की भरमार है, हां, चीनी राखियां इस बार भी कहीं नजर नहीं आ रहीं। स्वदेशी राखियों में बडा अंतर डिजाइन और चमक दमक को लेकर दिखाई पड रहा है। महिलाओं की परंपरागत चूडा राखी अब हाईटेक हो चुकी है। बच्चों के लिए आकर्षक खिलानों वाली तथा कार्टून पात्रों के चित्र लगी राखियां भी खूब लुभा रही हैं।

महंगाई के दौर में भी सोने और चांदी की राखी का मह‍त्व कम नहीं हुआ। नया बाजार में सोने और चांदी में सजी अनेक डिजाइनों में राखी उपलब्ध है। प्रिशियस और सेमी प्रिशियस स्टोन लगी राखियां भी बाजार में बिक रही हैं। परंपरागत चंदन राखी का महत्व बना हुआ है।