आंधी-बारिश भी नहीं रोक सकी परिक्रमा, राम नाम लिखी पुस्तिकाएं सुरक्षित

अजमेर। शहर में सोमवार शाम आए तेज अंधड से अर्जुनलाल सेठी नगर के श्रीसंकटमोचन बालाजी मंदिर परिसर में चल रही 57 अरब हस्तलिखित श्रीराम नाम महामंत्रों के पांडाल को भारी क्षति पहुंची, लेकिन राम नाम लिखीं पुस्तिकाएं पूर्णत: सुरक्षित रहीं।

घटना के समय बडी संख्या में रामभक्त परिक्रमा में लीन थे। इसी दौरान तेज हवा चलने लगी। देखते ही देखते हवा ने अंधड का रूप ले लिया। भक्तों ने राम नाम पुस्तिकाओं वाले टेंट के ​नीचे आकर शरण ली और आंधी और बारिश से खुद को सुरक्षित किया। बाहर की ओर लगा पूरा पांडाल तहस नहस हो गया लेकिन भीतरी पांडाल में किसी तरह का नुकसान नहीं पहुंचा।

सोमवार को श्रीराम नाम धन संग्रह परिक्रमा स्थल पर सुबह 5.15 बजे आरती के साथ परिक्रमा प्रारंभ हुई। आरती में राम नाम धन संग्रह बैंक के संयोजक रामसिंह चौहान का सान्निध्य मिला। सुखराज शर्मा, बालकृष्ण पुरोहित, सुरेश उपाध्याय भी शामिल हुए।

परिक्रमा के साथ अपराहन 3 बजे महिला मित्र मंडली की ओर से भजन कीर्तन का का आयोजन किया गया। मंडली की कमलेश पारीक, संजू सैन, संगीता पारीक, सुनीता उपाध्याय, गंगा देवी टेलर, बसन्ती देवी, हेमलता तिवारी आदि ने प्रस्तुति दी। शाम 5 बजे श्रीराधे कृष्ण मंडल ने संगीतमय सुन्दर काण्ड का पाठ किया।

आयोजन समिति सचिव सुरेश उपाध्याय के अनुसार मंगलवार शाम 5 बजे शोभा यात्रा निकाली जाएगी। शोभायात्रा श्रीसंकट मोचन बालाजी मंदिर से प्रारंभ हो कर अर्जुन लाल सेठी नगर के मुख्य मार्ग होते हुए पुन: परिक्रमा स्थल पहुंचेगी। शाम 7.15 बजे अशोक तोषनीवाल द्वारा रात्रि जागरण का कार्यक्रम रखा गया है।