54 अरब हस्तलिखित श्रीराम महामंत्रों की परिक्रमा का विश्राम आज

अजमेर। धार्मिक नगरी अजमेर के आजाद पार्क अयोध्या नगरी में 31 दिसबर से चल रही 54 अरब हस्तलिखित श्रीराम नाम परिक्रमा के 15वें दिन रामभक्तों का सैलाब उमडा। अल सुबह से ही भक्तों ने परिक्रमा शुरू कर दी, देर शाम तक श्रद्धालुओं का आना बना रहा। सोमवार को अंतिम दिन शाम तक परिक्रमा की जा सकेगी।

सह संयोजक महेन्द्र जैन मित्तल ने बताया कि दोपहर के सत्र में रामानुज संकीर्तन मण्डल के लक्ष्मण पण्डित व साथियों की ओर से सुन्दरकाण्ड पाठ की प्रस्तुति दी गई। आयोजन समिति की ओर से उत्कृष्ट कार्य करने वाले समाजसेवी विष्णु गर्ग, पत्रकार अभिजीत दवे, दिलीप शर्मा और दीपक दाधीच का सम्मान किया गया।

कभी राम बन के कभी श्याम बनके…

श्रीराम नाम धन संग्रह बैंक अजमेर की ओर से 84 लाख राम नाम का हस्तलेखन पूर्ण करने वाले साधकों देव दत्त शर्मा, रमेश टेवानी, रामचंद्र गोयल, विष्णुदत्त शर्मा, सत्यनारायण शर्मा, रामगोपाल शर्मा, मदन लाल सैनी, अक्षयदान सिंह चारण और विमलेश माहेश्वरी को प्रशस्ति पत्र देकर बहुमान किया गया। अशोक पंसारी, श्याम बंसल, सरदारमल जैन, जितेन्द्र खंडेलवाल, गोकुल अग्रवाल, रमेश अग्रवाल, अनिल गर्ग, जगदीश भाटिया, रमेश चेलानी और सुरेश चारभुजा यजमान रहे।

शाम को महाआरती में अपार जनसमूह उमडा, रामभक्तों ने बढचढकर राम नाम मंत्रों की महाआरती की। सत्यनारायण भंसाली, महेन्द्र जैन मित्तल, विष्णु चौधरी, सर्वेश्वर अग्रवाल, पंडित संतोष आचार्य, पंडित कैलाश नाथ, राधा देवी तायल समेत गणमान्यजन मौजूद रहे।

परिक्रमा में राम चाय की चुस्कियों का आनंद

अयोध्या नगरी में 31 दिसबर से चल रही 54 अरब हस्तलिखित श्रीराम नाम परिक्रमा के दौरान रामभक्त धर्मलाभ के तरीके खुद तलाश लेते हैं। परिक्रमा अवधि में राम चाय का खूब बोलबाला रहा। सर्दी के बीच सुबह से लेकर देर शाम तमक राम चाय की चुस्कियों का भक्तों ने खूब आनंद लिया। अशोक टांक ने बताया कि परिक्रमा प्रारंभ होने के दिन से तुलसी सेवा संस्थान, लायंस क्लब अजमेर उमंग तथा ह्रयून राइटस आर्गनाइजेशन ने राम चाय की व्यवस्था की।

15 जनवरी को होगा राम नाम परिक्रमा का विश्राम

सह संयोजक कंवलप्रकाश किशनानी ने बताया कि 54 अरब हस्तलिखित रामनाम महामंत्र परिक्रमा महोत्सव के अंतिम दिन पर सोमवार सुबह 9 बजे पूर्णाहुति यज्ञ होगा। राम नाम महामंत्रों की परिक्रमा का विश्राम शाम को महाआरती होने के बाद होगा।

अपराहन 3 बजे संयोजक सुनील दत्त जैन का मार्गदर्शन मिलेगा। केशव माधव संकीर्तन मंडल की ओर से राष्ट्र की सुरक्षा में तैनात सजग प्रहरियों की हौसला अफजाई के लिए 45 मिनट तक रामधुनी श्री राम जय जय राम का महाजप किया जाएगा।

प्रवचन सत्र में बद्रीकाश्रम पीठ के जगदगुरू शंकराचार्य श्री स्वरूपानन्द महाराज के कृपा पात्र शिष्य स्वामी प्रज्ञानन्द महाराज का आशीर्वाद प्राप्त होगा। शाम को राम नाम महामंत्रों की भव्य महाआरती होगी। महाआरती के बाद प्रसाद वितरण होगा। समापन समारोह और पूर्णाहूति के यजमान रमेश चन्द्र अग्रवाल, अखिलेश गोयल, पूनम मारोठिया, भारती श्रीवास्तव और कुणाल जैन रहेंगे।

दीपकों से होगी महाआरती, बंटेगी तुलसी माला

सह संयोजक सत्यनारायण भंसाली ने बताया कि 54 अरब हस्तलिखित श्रीराम नाम महामंत्र परिक्रमा महोत्सव का विश्राम भव्य महाआरती के साथ होगा। समस्त रामभक्त महाआरती कर सकेंगे। महाआरती शाम 6 बजे होगी। रामभक्तों को आरती का दीपक व थाली घर से सजाकर लानी होगी। समिति ने दीपकों की रोशनी से प्रकाशित अयोध्या नगरी के अनूठे स्वरूप और राम नाम स्तुति का आनंद लेने के लिए सभी धर्मप्रेमियों से आने की अपील की है। राम नाम महामंत्र परिक्रमा रूपी अनुष्ठान के विश्राम पर महामंत्रों का विशेष कृपा प्रसाद 108 मनकों की शुद्ध तुलसी माला एवं गोमूखी वितरीत किया जाएगा। महामंत्रों की पूर्णाहुति में सिद्ध श्रीगोवर्धन वृंदावन से मंगवाई गई तुलसी माला प्रज्ञानंद महाराज के कर कमलों से राम भक्तों में वितरण किया जाएगा।