अयोध्या नगरी में साक्षात प्रकट भये भगवान, गूंजे जय श्रीराम के जयकारे

अजमेर। अयोध्या नगरी में एक तरफ 54 अरब हस्तलिखित नाम रूप में राम बिराजे हुए हैं वहीं दूसरी तरफ अनेक बालरूप अवतार धरकर प्रभु साक्षात प्रकट हो गए। भगवान के अवतार रूपी दर्शन कर राम भक्त निहाल हो गए। गणेश, कृष्ण, शिव, हनुमान, नारदजी और राम खुद राम अपने परिवार राम नाम महामंत्रों की परिक्रमा करने लगे। देवी देवताओं को राम नाम की परिक्रमा करते देख हर तरफ जय श्रीराम का उदघोष होने लगा। आनंद से पुलकित भक्तों ने पुष्पवर्षा कर जयकारे लगाए।

श्रीराम महामंत्र परिक्रमा महोत्सव के दौरान शुक्रवार को भगवान बनो प्रतियोगिता के दौरान बडी संख्या में नन्हें प्रतियोगियों ने भगवान के अवतार रूप धारण किए। संयोजक शशिप्रकाश इंदोरिया ने बताया कि पहले वर्ग जन्म से तीन साल में आदित्य त्रिपाठी प्रथम, वरदान शर्मा सैकंड और रोमित गिदवानी तीसरे स्थान पर रहे।

दूसरे वर्ग नर्सरी से 5वीं कक्षा में लक्षिता चौहान प्रथम, कार्तिक चेलानी और कुसुमू सच्चानन्दानी तथा हर्षित पाचरिया तृतीय स्थान पर रहे। तीसरे वर्ग छठी कक्षा से 12वीं कक्षा तक में मेघना गौड प्रथम, अर्जुन डोडिया सैकंड तथा गर्वित गौड तृतीय रहे। भगवान बनो और गुरुवार को हुई ​रंगभरो प्रतियोगिता के विजेताओं को राम नाम परिक्रमा महोत्सव समिति की ओर से पुरस्कृत किया गया।