राम मंंदिर दिसंबर 2023 से भक्तों के लिए खुल जाएगा : विहिप

नई दिल्ली। विश्व हिंदू परिषद (विहिप) ने कहा है कि अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण तेज गति से चल रहा है और मंदिर दिसंबर 2023 से भक्तों के ‘दर्शन’ के लिए खुल जाएगा।

गुरूवार को विहिप के केंद्रीय सह मंत्री (संयुक्त सचिव) गोपाल ने कहा कि मंदिर निर्माण की नींव तैयार हो रही है। ‘राफ्टिंग’ से संबंधित कार्य शुरू कर दिया गया है। यह काम 15 दिन में पूरा कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि नींव का काम पूरा होने के बाद, हम नींव को भरते हुए ग्रेनाइट के काम को आगे बढ़ाएंगे। ग्रेनाइट से स्तम्भ की चौकी का काम किया जाएगा।

गोपाल ने कहा कि श्री राम मंदिर निर्माण के लिए बेंगलूरु से ग्रेफाइट मंगवाए गए हैं। मिर्जापुर और जोधपुर से पत्थर आ रहे हैं। बंसी पहाड़पुर से पत्थर आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह मंदिर 360 फीट लंबा और 235 फीट चौड़ा होगा। पांच मुख्य स्तंभ हैं और मुख्य स्तंभ 161 फीट ऊंचा है।

उन्होंने कहा कि वह श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास के महासचिव चंपत राय के साथ समन्वय में काम कर रहे हैं। लोगों ने लंबा समय इंतजार किया है। अगस्त 2023 तक मंदिर निर्माण को पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। दिसंबर 2023 से यह भक्तों के लिए ‘दर्शन’ के लिए खुला रहेगा।

उल्लेखनीय है कि राय ने इससे पहले अक्टूबर में कहा था कि भव्य राम मंदिर आधुनिक तकनीक से तैयार होगा। राम मंदिर में पौराणिक कथाओं का प्रतिबिंब भी देखा जाएगा।