रामनाथ कोविंद शुक्रवार को करेंगे ओडीओपी समिट का शुभारम्भ

रामनाथ कोविंद शुक्रवार को करेंगे ओडीओपी समिट का शुभारम्भ
रामनाथ कोविंद शुक्रवार को करेंगे ओडीओपी समिट का शुभारम्भ

लखनऊ । राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद शुक्रवार को उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में ‘एक जिला एक उत्पाद ’(ओडीओपी) योजना को प्राेत्साहित करने के मकसद से आयोजित तीन दिवसीय समिट का शुभारम्भ करेंगे।

सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम के कारोबारियों की यह समिट परंपरागत उद्योगों को बढावा देने के साथ एक जिला एक उत्पाद योजना के लिये मील का पत्थर साबित होगी। ओडीओपी योजना इसी साल 25 जनवरी काे शुरू की गयी थी। राष्ट्रपति कोविंद शुक्रवार सुबह 0930 बजे पहुंचेगे और करीब छह घंटे यहां बितायेंगे। इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में ओडीअोपी समिट का शुभारम्भ राष्ट्रपति सुबह 1100 बजे करेंगे। शाम 1530 बजे वह दिल्ली लौट जायेंगे।

आधिकारिक सूत्रों ने गुरूवार को बताया कि कोविंद वायुसेना के विशेष विमान से चौधरी चरण सिंह अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे उतरेंगे जहां से वह राजभवन जायेंगे। राजभवन से राष्ट्रपति का काफिला कार्यक्रम स्थल इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान के लिये रवाना होगा। कार्यक्रम सम्पन्न होने के बाद श्री कोविंद राजभवन वापस आयेंगे और भोजन करने के बाद नई दिल्ली के लिये रवाना हो जायेंगे। राजभवन में ठहरने के दौरान श्री कोविंद प्रबुद्ध हस्तियों के अलावा भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कुछ नेताओं से मुलाकात कर सकते हैं।

एमएसएमई और खादी एवं ग्रामोद्याेग मंत्री सत्यदेव पचौरी ने गुरूवार को बताया कि श्री काेविंद समिट में लाभार्थियों को करीब 800 करोड़ रुपये के ऋण वितरित करेंगे और चुने हुए लाभार्थियों को ऋण पत्र सौंपेंगे। राष्ट्रपति तीन जिलों के 78 कारीगरों को टूलकिट भी प्रदान करेंगे। इनमें गोरखपुर, आगरा और मुरादाबाद के 26-26 कारीगर शामिल हैं।

समिट के पहले दिन अमेरिका की बहुराष्ट्रीय कंपनियों एमाजान और जी हेल्थ केयर के साथ दो एमओयू पर हस्ताक्षर किये जायेंगे जबकि दूसरे रोज अमेरिका की ही प्रतिष्ठित बोइंग कंपनी के साथ करार पत्र पर हस्ताक्षर होंगे। यह कंपनी अलीगढ में कौशल प्रशिक्षण केन्द्र की स्थापना करेगी। एमाजान कारीगरों और छोटे उद्यमियों को लखनऊ,गोरखपुर,आगरा, फिरोजाबाद,कानपुर,मुरादाबाद,मेरठ,भदोही और वाराणसी में प्रशिक्षित करेगी और उनके उत्पाद को एमाजान के प्लेटफार्म पर बेचा जायेगा।

जीई हेल्थकेयर मेरठ मेडिकल कालेज हास्पिटल और किंग जार्ज मेडिकल यूनीवर्सिटी के साथ एक करोड 60 लाख रूपये की लागत से कौशल प्रशिक्षण केन्द्रों की स्थापना करेगी। पचौरी ने कहा कि इस मौके पर प्रत्येक जिले के प्रभारी मंत्री योजना के तहत लाभार्थियों को ऋण पत्र वितरित करेंगे। मंत्री ने कहा कि वाराणसी,गोरखपुर,मुरादाबाद,आगरा और कानपुर के लाभार्थी इस मौके पर अपने अनुभव राष्ट्रपति के साथ साझा करेंगे। इस कार्यक्रम का सजीव प्रसारण समूचे राज्य में किया जायेगा।

उन्होने कहा कि एक जिला एक उत्पाद योजना के तहत तीन दिवसीय प्रदर्शनी का उदघाटन भी राष्ट्रपति के कर कमलो द्वारा किया जायेगा। पचौरी ने बताया कि समिट के दौरान आठ तकनीकी सत्र आयोजित किये जायेंगे जिसमे हथकरघा, टेक्सटाइल्स, शिल्पकला,पर्यटन,कृषि,खाद्य प्रंस्सकरण और वित्त विषय शामिल किये गये है। ओडीओपी समिट समूचे देश मेे ऐसा पहला आयोजन हाेगा जो एमएसएमई और हथकरघा उद्योग को नये आयाम देगा।