राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ मृतकों के परिजनों की कर रहा है मदद

पुणे। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) पुणे के विभिन्न श्मशान घाटों पर भारी भीड़ को ध्यान में रखते हुए, गैर सरकारी संस्था क्रियेटिव फांउडेशन के साथ कई श्मशान भूमि में कोरोना से मरने वालों के परिजनों को मदद कर रहा है।

क्रियेटिव फाउंडेशन के अध्यक्ष संदीप खार्डेकर ने कहा कि श्मशान घाटों पर बढ़ते शवों को देखते हुए हम आरएसएस के साथ मिल कर नगर निगम के अधिकारियों से बात की और कोरोना से मरने वालों के अंतिम संस्कार में मदद देने की इच्छा जतायी थी। उन्होंने कहा कि पुणे के हर श्मशान घाट पर अंतिम संस्कार कराने वालों को पीपीई किट और अन्य सामान दिया गया है।

उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में पहले से ही सख्त बंद के कारण, नागरिक अधिकारियों ने भी अंतिम संस्कार में भाग लेने के लिए नए मानदंड स्थापित किए हैं जिसके कारण मृतक व्यक्तियों के परिवारों को विशेष रूप से कोविड-19 के कारण मरने वालों के परिजनों को समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है।

उन्होंने कहा कि कोई भी निर्णय लेने के पूर्व हम अस्पताल के अधिकारियों, कोरोना पीड़ित परिवार के सदस्यों और श्मशान घाट के कर्मचारियों से संपर्क करते हैं।

कोरोना के दौर में हेल्पलाइन पर मिलेगा विशेषज्ञ चिकित्सकों का परामर्श