टीम इंडिया के कोच के लिए छह नामों में रवि शास्त्री भी शामिल

Ravi Shastri, Mike Hesson among six names shortlisted by BCCI for Team India’s head coach

मुंबई। भारत के पूर्व कप्तान कपिल देव के नेतृत्व वाली क्रिकेट सलाहकार समिति भारतीय टीम के नए कोच के लिए शुक्रवार को बीसीसीआई मुख्यालय में छह उम्मीदवारों का साक्षात्कार लेगी।

भारतीय टीम के कोच पद के लिए जिन छह लोगों को चुना गया है उनमें माइक हेसन, टॉम मूडी, रॉबिन सिंह, लालचंद राजपूत, फिल सिमंस और मौजूदा कोच रवि शास्त्री के नाम शामिल हैं।

सोमवार को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने इस पद के लिए छह लोगों के नाम चुने थे जिन्हें साक्षात्कार के दिन और समय की जानकारी दे दी गई है। बीसीसीआई के पास टीम के विभिन्न कोचों के पदों के लिए कुल 2000 आवेदन आए थे जिसके बाद उन्होंने मुख्य कोच के लिए छह लोगों के नाम चुने हैं।

टीम के स्पोर्ट स्टाफ (बल्लेबाजी, गेंदबाजी और क्षेत्ररक्षण कोच) का चुनाव मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद करेंगे। हालांकि भारतीय टीम के कोच के लिए फिलहाल मौजूदा कोच रवि शास्त्री का नाम सबसे आगे चल रहा है। शास्त्री टीम के कप्तान विराट कोहली की भी पसंद हैं ऐसे में उनका पलड़ा बाकी लोगों से भारी है।

उल्लेखनीय है कि शास्त्री का टीम के साथ अनुबंध विश्वकप के बाद समाप्त हो गया था लेकिन उन्हें वेस्टइंडीज दौरे तक के लिए 45 दिनों का विस्तार दिया गया था।

सीएसी में कपिल के अलावा पूर्व भारतीय ओपनर अंशुमन गायकवाड और महिला क्रिकेटर शांता रंगास्वामी भी शामिल हैं। सीएसी टीम के नए कोच के लिए कप्तान विराट कोहली के विचारों को भी गंभीरता से ले सकती है जबकि वेस्टइंडीज में मौजूद शास्त्री का साक्षात्कार वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए लिया जाएगा।

शास्त्री के अलावा कोच पद के लिए ऑस्ट्रेलिया के पूर्व ऑलराउंडर मूडी भी दौड़ में शामिल हैं। मूडी पिछले छह वर्षों से आईपीएल की फ्रेंचाइजी सनराइजर्स हैदराबाद के कोच थे और उनके कोच रहते ही टीम ने 2016 में इस खिताब को जीता था और 2018 के आईपीएल की उपविजेता बनी थी।

कोच के दावेदारों में राजपूत इस समय जिम्बाब्वे टीम के कोच हैं। वह इससे पहले भारत, भारत ए और अफगानिस्तान टीम के भी कोच रह चुके हैं। राजपूत के नेतृत्व में ही भारत ने वर्ष 2007 में पहले ट्वंटी-20 विश्व कप का खिताब जीता था। रॉबिन आईपीएल की विजेता टीम मुंबई इंडियंस के सहायक कोच हैं। इसके अलावा वह 2007 से 2009 तक भारतीय टीम के फील्डिंग कोच भी रह चुके हैं।

माइक 2012 से 2018 तक विश्वकप की उपवविजेता टीम न्यूजीलैंड के कोच रहे हैं जबकि वेस्टइंडीज के पूर्व सलामी बल्लेबाज सिमंस इस वर्ष इंग्लैंड में हुए आईसीसी विश्वकप में अफगानिस्तान टीम के कोच थे।

शास्त्री के साथ उनके सपोर्ट स्टाफ में इस समय बल्लेबाजी कोच के रुप में संजय बांगड़, गेंदबाजी कोच के रुप में भरत अरुण और फील्डिंग कोच के रुप में आर श्रीधर शामिल हैं। इन चारों को ही नए चुनाव की प्रक्रिया में स्वत: ही प्रविष्टि मिल गई।

शास्त्री की तरह अरुण भी अपने पद पर बने रहने के दावेदार हैं जबकि श्रीधर को दुनिया के सर्वश्रेष्ठ क्षेत्ररक्षक दक्षिण अफ्रीका के जोंटी रोड्स से कड़ी चुनौती मिल सकती है।

बल्लेबाजी कोच के लिए बांगड़ के सामने प्रवीण आमरे, विक्रम राठौड़ और जे अरुण कुमार की चुनौती रहेगी। ये तीनों घरेलू और आईपीएल स्तर पर कोचिंग से जुड़े रहे हैं। सपोर्ट स्टाफ का चयन बीसीसीआई की चयन समिति के प्रमुख एमएसके प्रसाद करेंगे।