सबगुरु न्यूज के समाचार के बाद देवासी समाज की रैली, रणछोड़ मामले में निकाला गुस्सा

Silent Rally derived by the Reberer community after the assault with the war charioteer Devasi in Sirohi
Silent Rally derived by the Reberer community after the assault with the war charioteer Devasi in Sirohi

सबगुरु न्यूज-सिरोही। अतिवृष्टि के दौरान कृष्णगंज के निकट मेला जोड़ में 150 लोगों की जान बचाने वाले रणछोड़ को पुरस्कृत करने की बजाय मारपीट करने और गिरफ्तार करने पर देवासी समाज ने सोमवार को रैली निकाली। इसमे रणछोड़ को पुरस्कृत नही करने और उसके साथ दुर्व्यवहार करने वाले अधिकारियों के  खिलाफ कार्रवाई की मांग की। उल्लेखनीय है कि इस प्रकरण में रणछोड़ देवासी के साथ मारपीट करने और रणछोड़ द्वारा गणतंत्र दिवस पर सम्मान के लिए अपनायी गयी प्रक्रिया का समाचार सबसे पहले सिर्फ सबगुरु न्यूज ने ही दी थी।

रेबारी समाज ने रैली के बाद जिला कलेक्टर को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। इसमें बताया कि रणछोड़ देवासी ने 150 लोगों की जान बचाई थी, लेकिन प्रशासन ने उसे गत 15 अगस्त पर सम्मानित नही किया। उन्होंने 26 जनवरी को सम्मानित करने को आश्वस्त किया।

इसमे बताया कि आवेदन करने के बाद भी इस बार गणतंत्र दिवस पर रणछोड़ को सम्मानित नही किया गया। इस पर ये युवा कलक्टर से मिलने गए। कलक्टर ने इन्हें adm के पास भेजा। इनका आरोप है कि adm के पास जाने पर उन्होंने रणछोड़ की फ़ाइल फाड़ दी। इन्होंने रणछोड़ और उनके साथ के युवकों से मारपीट भी की। ज्ञापन में बताया कि सराहनीय काम करने वाले को प्रशासन ने अपमानित किया वहीं भ्रष्टाचार के आरोप में घिरे व्यक्ति को सम्मानित किया।

इन लोगों ने पुलिस प्रशासन का समाज में डर बैठे होने की बात लिखते हुए पुलिस द्वारा किये व्यवहार के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। इन लोगों कार्रवाई नही होने पर आगामी चुनावों में उनके साथ नही खड़े होने की भी बात कही। इस रैली में राकेश रेबारी, सुरेश रेबारी, भूपत देसाई, रणछोड़, नवीन रेबारी, हीराराम समेत काफी संख्या में रेबारी समाज के लोग शामिल थे।

पढ़े क्या हुआ था 26 जनवरी को रणछोड़ के साथ…

सिरोही में सम्मान हुआ अपमानित, एसीबी के आरोपित सम्मानित, जान बचाने वाले को थप्पड-धक्के