देवरिया में गर्भवती महिलाओं की मृत्यु दर में कमी: डॉ0 सिंह

reduces the death rate of pregnant women in Deoria
reduces the death rate of pregnant women in Deoria

देवरिया । उत्तर प्रदेश के देवरिया में जननी सुरक्षा योजना को प्रभावी ढ़ग से लागू करने से मातृ मुत्यु दर में कमी आयी है। अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ0 एस एन सिंह ने सोमवार को यहां बताया कि जननी सुरक्षा योजना के प्रभावी ढ़ग से लागू होने से नतीजे सामने आने लगे है।

उन्होने बताया कि इस साल यहां गर्भवती महिलाओं की मृत्यु दर में कमी आई है। इस योजना के तहत सुरक्षित प्रसव कराने के लिये जिले में 130 सेन्टर चिन्हित किये गये हैं तथा तीन ऐसे सेन्टर बनाये गये हैं। जहां जरूरत पड़ने पर आपरेशन आदि भी सुरक्षित प्रसव कराने के लिये किया जा सकता है।

डाॅ0 सिंह ने बताया शिशु मृत्यु दर कम करने की दिशा में कार्य किया जा रहा है। इस साल यहां प्रति एक हजार में मात्र 70 शिशुओं की मृत्यु हुई है। उन्होंने बताया कि शासन की मंशा है कि जन्म दर को रोका जाय। यहां जन्म दर 1.4 प्रति सैकड़ा है जबकि मुत्यु दर 1.2 प्रति सैकड़ा है। यहां के लोगों की औसत उम्र 66 वर्ष है।

उन्होने बताया कि जननी सुरक्षा योजना के तहत गर्भवती महिलाओं की चार बार सरकारी अस्पताओं में जांच होती है। माताओं की सुरक्षा के ध्यान में रखते हुये केन्द्र सरकार की प्रधानमंत्री मातृ सुरक्षा योजना के तहत जिले में प्रत्येक माह के नौ तारीख को गर्भवती महिलाओं की जांच प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों और जिले पर होती है। यहां गर्भवती महिलाओं की जांच और सुरक्षित प्रसव और उसके बाद शिशुओं की सुरक्षा आदि के लिये यहां स्वास्थ विभाग कार्य कर रहा है।