रीट परीक्षार्थियों को अब निजी बस में भी परीक्षा के लिए परिवहन फ्री

जयपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रदेश में 26 सितंबर को होने वाली राज्य की अब तक की सबसे बड़ी परीक्षा अध्यापक पात्रता परीक्षा (रीट) 2021 में परीक्षार्थियों को अब निजी बसों में भी परीक्षा के लिए मुफ्त सफर की सुविधा प्रदान करने की घोषणा की है।

शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने बताया कि आज मुख्यमंत्री ने प्रदेश की सबसे बड़ी परीक्षा रीट 2021 में अभ्यर्थियों के हित में संवेदनशील फैसला लेते हुए रीट परीक्षार्थियों के लिए रोडवेज के साथ ही निजी बसों में भी मुफ्त सफर की घोषणा की है। गहलोत ने रीट परीक्षा की तैयारियों की समीक्षा बैठक में यह निर्णय किया।

मुख्यमंत्री की इस घोषणा से इस परीक्षा में शामिल होने वाले 16 लाख से अधिक अभ्यर्थियों को आने जाने में सभी बसों में नि:शुल्क सुविधा मिलेगी। बैठक में गहलोत ने रीट परीक्षा के सफल आयोजन के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

उल्लेखनीय है कि इससे पहले राज्य सरकार ने इस परीक्षा के लिए रोडवेज बस में परीक्षार्थियों के आने जाने के लिए नि:शुल्क सुविधा प्रदान करने की घोषणा की थी।

रीट परीक्षा के सफल आयोजन के लिए सरकार ने की विशेष तैयारियां

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि प्रदेश में 26 सितंबर को होने वाली अब तक की सबसे बड़ी प्रतियोगी परीक्षा अध्यापक पात्रता परीक्षा (रीट) के लिए सरकार ने विशेष तैयारियां की हैं और रीट को लेकर षड़यंत्र कर पेपरलीक जैसी अफवाह फैलाने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

गहलोत ने सोशल मीडिया के जरिए आज यह बात कही। उन्होंने कहा कि 16 लाख अभ्यर्थियों वाली अभी तक की सबसे बड़ी प्रतियोगी परीक्षा रीट के सफल आयोजन के लिए प्रदेश सरकार ने विशेष तैयारियां की हैं। पेपर के संबंध में किसी भी गैर-कानूनी गतिविधि की सूचना पुलिस को दें। रीट को लेकर षडयंत्र कर पेपरलीक जैसी अफवाह फैलाने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।