सऊदी अरब में दफनाए गए हिन्दू व्यक्ति का अवशेष भारत लाया गया

नई दिल्ली। केंद्र ने सऊदी अरब में गलती से दफनाए गए हिन्दू व्यक्ति का अवशेष भारत पहुंचने तथा उनके परिवार को सौंप दिए जाने की जानकारी बुधवार को दिल्ली उच्च न्यायालय को दी।

विदेश मंत्रालय की ओर से निदेशक (सीपीवी डिवीजन) विष्णु शर्मा ने न्यायमूर्ति प्रतिभा एम सिंह की एकलपीठ को यह जानकारी दी। उन्होंने न्यायालय को बताया कि मृतक का अवशेष आज सुबह भारत पहुंच गया है और उसे परिवार को सौंपने के बाद उनके हिमाचल प्रदेश में गृह नगर ऊना पहुंचा दिया गया है। न्यायालय ने इस मामले में सऊदी अरब के अधिकारियों का आभार जताया।

न्यायालय मृतक संजीव कुमार के अंतिम संस्कार के लिए उनके अवशेषों की मांग को लेकर उनकी विधवा की ओर से प्रस्तुत याचिका की सुनवाई कर रही थी। कोरोना संक्रमित होने के बावजूद अस्पताल के बेड से ही मामले की वर्चुअल सुनवाई में शामिल याचिकाकर्ता के वकील सुभाष चंद्रन ने भी संतोष व्यक्त किया है।

मृतक की पत्नी अंजू शर्मा ने अपनी याचिका में कहा था कि 23 साल से सऊदी अरब में काम कर रहे संजीव कुमार मधुमेह एवं उच्च रक्तचाप से पीड़ित थे और गत 24 जनवरी को दिल का दौरा पड़ने के कारण उनका निधन हो गया। उनके शव को जिजन स्थित बीश जनरल अस्पताल में रखा गया था।

इसके बाद 18 फरवरी को याचिकाकर्ता को सूचित किया गया कि उनके पति काे शव सऊदी अरब में दफनाया दिया गया है, जबकि परिवार के सदस्य भारत में शव के यहां भेजे जाने की प्रतीक्षा में थे। उन्होंने सऊदी अरब के अधिकारियों से मृतक का अवशेष भारत भेजे जाने का अनुरोध भी किया था।