जम्मू एवं कश्मीर में गणतंत्र दिवस शांतिपूर्वक मनाया गया

Republic Day celebrated peacefully in Jammu and Kashmir despite security concerns being raised earlier

जम्मू/श्रीनगर। जम्मू एवं कश्मीर की शीतकालीन व ग्रीष्मकालीन राजधानियों में शुक्रवार को कड़ी सुरक्षा के बीच गणतंत्र दिवस समारोह मनाया गया। जम्मू शहर के मौलाना आजाद स्टेडियम में मुख्य ध्वजारोहण कार्यक्रम व औपचारिक परेड का आयोजन किया गया। इसमें राज्यपाल एन.एन.वोहरा ने तिरंगा फहराया और भव्य परेड की सलामी ली।

मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती उनके कैबिनेट के सहयोगी, विधानसभा अध्यक्ष कविंद्र गुप्ता, उच्च न्यायालय के न्यायाधीश व वरिष्ठ सेना पुलिस व नागरिक अधिकारी भी समारोह में मौजूद थे।

समाज के कई क्षेत्रों के जाने माने लोग व स्कूली बच्चों ने भी 69वें गणतंत्र दिवस समारोह में भाग लिया। सेना, अर्धसैनिक बलों, राज्य पुलिस व स्कूली बच्चों ने परेड में भाग लिया।

जम्मू शहर व विभिन्न जिला मुख्यालयों में स्कूली बच्चों द्वारा किए गए सांस्कृतिक कार्यक्रम गणतंत्र दिवस समारोह का मुख्य आर्कषण रहे।

श्रीनगर शहर में मुख्य समारोह शेर-ए-कश्मीर स्टेडियम में मनाया गया। इसमें राजस्व व संसदीय मंत्री अब्दुल रहमान वीरी ने तिरंगा फहराया व परेड की सलामी ली।

इस साल गणतंत्र दिवस के लिए असाधारण सुरक्षा व्यवस्था की गई थी। खुफिया विभाग की गैर स्थानीय महिला आत्मघाती हमलावर के श्रीनगर में दाखिल होने के मद्देनजर सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद की गई थी।

घाटी में मोबाइल फोन सेवाएं एहतियाती कदम के तौर पर बंद कर दी गई। अधिकारियों ने कहा कि इसे दोपहर बाद बहाल कर दिया जाएगा। जम्मू, लद्दाख व घाटी के विभिन्न जिला मुख्यालय से शांतिपूर्ण गणतंत्र दिवस मनाए जाने की खबरें हैं।