तालिबान अफगानिस्तान में शासन नहीं कर पाएगा : अमरूल्लाह सालेह

मॉस्को। खुद को अफगानिस्तान का वैधानिक कार्यवाहक राष्ट्रपति घोषित करने वाले अमरूल्लाह सालेह ने कहा है कि तालिबान अफगानिस्तान में सफलतापूर्वक शासन नहीं कर पाएगा।

सालेह ने ट्वीटर पर कहा कि राष्ट्रों को हिंसा के बजाय कानून के शासन का सम्मान करना चाहिए। अफगानिस्तान इतना विशाल है कि पाकिस्तान उसका कुछ भी नहीं बिगाड़ पाएगा और अफगानिस्तान जैसे विशाल देश में तालिबान का शासन करना संभव नहीं है। अपने इतिहास में ऐसा अध्याय मत रखिए जहां आतंकवादियों के सामने झुकने और जिल्लत झेलने का वर्णन किया गया हो।

उन्होंने उन अफगानी नागरिकों का भी समर्थन किया जो राष्ट्रीय ध्वज का सम्मान करते हैं और राष्ट्र की एकता के लिए एकजुट होकर काम कर रहे हैं।

गौरतलब है कि रविवार को तालिबान ने काबुल पर अधिकार कर लिया था और इसके बाद राष्ट्रपति अशरफ गनी देश से पलायन कर गए थे। उन्होंने कहा था कि वह देश हित में अफगानिस्तान से गए थे ताकि तालिबानी आतंकवादियों के खून खराबे को रोका जा सके। मंगलवार को सालेह ने खुद को अफगानिस्तान का कार्यवाहक राष्ट्रपति घोषित किया था।