कोरोना के बढ़ते मामलों से शेयर बाजार में हाहाकार

Rising cases in Corona caused panic in the stock market
Rising cases in Corona caused panic in the stock market

मुंबई। वैश्विक स्तर पर सभी मुख्य सूचकांकों में तेजी के बावजूद देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना संक्रमण के एक लाख से अधिक मामले सामने आने से बढ़ी लॉकडाउन की आशंकाओं से घरेलू स्तर पर शेयर बाजार में हाहाकार मच गया।

शुरूआती कारोबार में 1500 अंकों से अधिक की गिरावट लेने के बाद बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 870.51 अंक और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 229.55 अंक की बड़ी गिरावट लेकर बंद हुआ। सेंसेक्स जहां बड़ी गिरावट से कुछ उबरते हुए 49,159.32 अंक पर बंद हुआ वही निफ्टी 14,637.80 अंक पर रहा।

दिन की शुरुआत में ही सेंसेक्स नौ अंकों की मामूली गिरावट लेकर 50,020.91 अंक पर खुला लेकिन देखते ही देखते यह करीब 1500 अंकों की गिरावट लेकर 48,638.62 अंक पर आ गया तथा निफ्टी भी 30 अंकों की गिरावट लेकर 14,837.70 अंक पर खुला।

इस दौरान दिग्गज, मझोली तथा छोटी कंपनियों में हुई भारी बिकवाली से बीएसई का मिडकैप 232.54 अंक यानी 1.13 प्रतिशत की गिरावट लेकर 20,283.86 अंक पर रहा तथा स्मॉलकैप भी इस दौरान 226.70 अंक यानी 1.08 प्रतिशत लुढ़कर 20,844.99 अंक पर बंद हुआ।

कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप के कारण पाबंदियां की आशंका से बैंकिंग समूह की कंपनियों में सबसे अधिक 1,326.49 अंकों अर्थात 3.47 प्रतिशत, कंस्यूमर ड्यूरेबल्स में 711.55 अंक यानी 2.17 प्रतिशत और ऑटो क्षेत्र की कंपनियों में 593.30 अंक यानी 2.63 प्रतिशत की जोरदार गिरावट हुई।

बीएसई में आज कुल 3141 कंपनियों में कारोबार हुआ जिसमें से 1058 कंपनियों के शेयर हरे निशान में और 1898 कंपनियों के शेयर लाल निशान में बंद हुये जबकि शेष 185 कंपनियों के शेयर दिनभर के उतार-चढ़ाव के बाद अंतत: अपरिवर्तित रहे।

बीएसई का सेंसेक्स आज नौ अंकों की मामूली गिरावट लेकर 50,020.91 अंक पर खुला और दोपहर बाद 50,028.67 अंक के उच्चतम स्तर पर पहुंचा तथा बाद में भारी बिकवाली से 1500 अंकों की गिरावट लेकर इसका न्यूनतम स्तर 48,638.62 अंक रहा। अंत में यह पिछले दिवस के 50,029.83 अंक की तुलना में 1.74 प्रतिशत यानी 870.51 अंक गिरकर 49,159.32 अंक पर बंद हुआ।

एनएसई का निफ्टी भी 30 अंकों की गिरावट लेकर 14,837.70 अंक पर खुला। इसका दिवस का उच्चतम स्तर 14,849.85 अंक जबकि न्यूनतम स्तर 14,459.50 अंक रहा। अंत में यह गत दिवस के 14,867.35 अंक के मुकाबले 1.54 प्रतिशत यानी 230 अंक लुढ़क कर 14,637.80 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी की 13 कंपनियों के शेयर चढ़े और 37 के लाल निशान में रहे।

वैश्विक स्तर पर हालांकि यूरोप और एशिया के सभी मुख्य सूचकांकों में इस दौरान उछाल दर्ज किया गया। एशिया में जापान का निक्की 0.79 प्रतिशत, हांगकांग का हैंगसैंग 1.97 प्रतिशत तथा चीन का शंघाई कम्पोजिट 0.52 प्रतिशत चढ़ा। वही यूरोप में ब्रिटेन के एफटीएसई में 0.35 प्रतिशत और जर्मनी के डैक्स 0.66 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की गई।
बीएसई के सेंसेक्स में आज एचसीएल टेक में सबसे अधिक 3.08 प्रतिशत, टीसएस में 2.32, इनफ़ोसिस में 1.79, भारती एयरटेल में 1.40 और टेक महिंद्रा में 0.55 प्रतिशत की वृद्धि हुई।

इस दौरान बजाज फाइनेंस में सर्वाधिक 5.82 प्रतिशत, इंडसइंड बैंक में 5.64, स्टेट बैंक में 4.56, महिंद्रा एंड महिंद्रा में 4.17, एक्सिस बैंक में 3.93, बजाज ऑटो में 3.84, आईसीआईसीआई बैंक में 3.84, आईटीसी में 3.39, एचडीएफ़सी में 3.36, बजाज फिनसर्व में 3.10, एलटी में 2.84, एचडीएफ़सी बैंक में 2.52, कोटक बैंक में 2.49, मारुती में 2.23, पावरग्रिड में 2.10, एशियन पेंट में 1.67, एनटीपीसी में 1.53, टाइटन में 1.52, अल्ट्रा सीमेंट में 1.51, रिलाइंस में 1.43, नेस्ले इंडिया में 1.13, हिंदुस्तान यूनीलीवर में 1.08, ओएनजीसी में 0.77, डॉरेड्डी में 0.69 और सनफार्मा में 0.37 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई।