सड़क सुरक्षा स्कूल पाठ्यक्रम का हिस्सा बने: नितिन गडकरी

सड़क सुरक्षा स्कूल पाठ्यक्रम का हिस्सा बने: नितिन गडकरी
सड़क सुरक्षा स्कूल पाठ्यक्रम का हिस्सा बने: नितिन गडकरी

नयी दिल्ली । सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने बढती सड़क दुर्घटनाओं पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा है कि वाहन चलाते समय सभी नियमों का सम्मान करें यह भाव हर चालक में पैदा करने के लिए स्कूल पाठ्यक्रमों में सड़क सुरक्षा को शामिल किया जाना चाहिए।

गडकरी ने सड़क सुरक्षा को लेकर मंत्रालय के ब्रांड एम्बसडर तथा मशहूर अभिनेता अक्षय कुमार पर फिल्मांकित तीन वीडियो जारी करने के अवसर पर मंगलवार को यहां आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि जिस देश और समाज के लोगों में वाहन चलाते समय यातायात के नियमों को लेकर डर और सम्मान का भाव नहीं हो वहां लोगों को समझाना कठिन है।

उन्होंने कहा कि इसी स्थिति से निपटने के लिए उन्होंने राज्यों के शिक्षा मंत्रियों को पत्र लिखकर उनसे अनुरोध किया है कि वे स्कूल पाठ्यक्रमों में सड़क सुरक्षा को जोड़ें ताकि लोगों के ज़हन में बचपन से ही सड़क सुरक्षा के नियमों के पालन को लेकर सम्मान का भाव पैदा किया जा सके। उन्होंने कहा कि सड़कों पर कैसे सुरक्षित चलना है यह बच्चों को पढाया जाना चाहिए।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि सड़कों पर होने वाली दुर्घटनाओं को लेकर लोग अक्सर डरते हैं कि बाद में उनसे पूछताछ हो सकती है। उन्होंने कहा कि लोगों को डरने की कोई जरूरत नहीं है। उनसे किसी भी तरह की पूछताछ नहीं होगी इसलिए जहां भी सड़क दुर्घटना दिखे लोगों को बचाव के लिए आगे आना चाहिए। उन्होंने कहा कि उनका मसद हर साल हाेने वाली पांच लाख सड़क दुर्घटनाओं को रोकना है। इन दुर्घटनाओं में डेढ लाख लोग मारे जाते हैं जिनमें 65 प्रतिशत युवक होते हैं।

उन्होंने स्पष्ट किया किया कि ‘सड़क किसी के बाप की नहीं’ वीडियो का मकसद किसी को अपमानित करना नहीं है बल्कि संदेश देना है कि वहां गलत चलोगे और नियमों का पालन नहीं करोगे तो संकट पैदा हो जाएगा। यहां लोगों की जान बचाने के लिए यह हास्य नाटक किया गया है।