रूपनगढ थाने का ASI 40 हजार रूपए रिश्वत लेते रंगे हाथों अरेस्ट

अजमेर। राजस्थान मे भष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने अजमेर जिले के रूपनगढ़ थाने के सहायक सब इंस्पेक्टर घासीलाल को आज 40 हजार रूपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया।

ब्यूरो के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक आलोक शर्मा ने बताया कि थाने में 308 के एक मुकदमे में जमानत करवाने की एवज में आरोपी एएसआई घांसीलाल ने परिवादी से 40 हजार रूपए की रिश्वत की मांग की थी।

पीड़ित परिवादी ने जयपुर पहुंचकर ब्यूरो के आला अधिकारियों से संपर्क साधा। उसके बाद परिवादी की शिकायत का सत्यापन कराने के बाद आज रूपनगढ़ थाने में उक्त कार्यवाही को अंजाम देते हुए चालीस हजार रुपए की रिश्वत राशि के साथ घांसीलाल को ब्यूरो की टीम ने गिरफ्तार कर लिया।

अजमेर में अज्ञात व्यक्ति का मिला शव

अजमेर के आदर्श नगर थाना क्षेत्र के नसीराबाद रोड माखुपुरा क्षेत्र में सड़क किनारे आज एक अज्ञात व्यक्ति का शव बरामद हुआ। थानाधिकारी हेमराज मूड के अनुसार मुख्य सड़क के पास मिले शव की अभी शिनाख्त नहीं हो पाई है। प्रथमदृष्टया ऐसा लगता है कि मृतक के शव को कहीं से लाकर यहां पटका गया है। पुलिस मृतक की शिनाख्त के प्रयास कर रही है और मामले की जांच में जुटी है।

ख्वाजा साहब के खिलाफ युवक ने की टिप्पणी, केस दर्ज

अजमेर के तीर्थराज पुष्कर सरोवर घाट पर एक युवक द्वारा सूफी संत ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती के खिलाफ टिप्पणी का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद दरगाह थाना पुलिस ने युवक के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।

दरगाह थाना अधिकारी दलबीर सिंह फौजदार के अनुसार सोशल मीडिया पर वीडियो में युवक ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती पर अनर्गल टिप्पणियां कर रहा है। जिसके चलते दूसरे पक्ष की धार्मिक भावनाओं को आघात लगा है जिसके चलते अज्ञात आरोपी के खिलाफ दरगाह कमेटी, दरगाह दीवान, दरगाह से जुड़ी खादिमों की दोनों अंजुमन संस्थाओं की ओर से मुकदमा दर्ज कराया गया है।

पुलिस ने शिकायत पर मुकदमा दर्ज कर अनुसंधान शुरू कर दिया और वीडियो जारी करने वाले की तलाश शुरू कर दी गई है।