अरविंद केजरीवाल की हवाई यात्रा पर करोड़ों खर्च किए जा रहे : शिअद

चंडीगढ़। शिरोमणि अकाली दल ने पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान से सवाल किया है कि वह पंजाबियों को बताएं कि आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल की हवाई यात्रा के लिए सरकारी खजाने से करोड़ों रुपए क्यों खर्च किए जा रहे हैं और दस सीटों वाला विमान किराए पर लेने का फैसला किस लिये किया जब पहले से ही एक हेलीकॉप्टर है।

पार्टी प्रवक्ता एवं पूर्व मंत्री डॉ. दलजीत सिंह चीमा ने बुधवार को यहां एक बयान में कहा कि यह निंदनीय है कि पंजाब सरकार केजरीवाल और आप पार्टी की सुविधा के लिए करोड़ों रुपए बर्बाद करने को तैयार है। पंजाब में आने जाने के लिए फिक्सड विंग विमान की जरूरत नहीं है क्योंकि इसका भौगोलिक क्षेत्र बहुत छोटा है और इसका इस्तेमाल पंजाब के बाहर की यात्रा के लिए किया जाएगा ताकि केजरीवाल के अन्य राज्यों के दौरे को सुविधाजनक बनाया जा सके।

उन्होंने कहा कि वर्तमान में भी पंजाब सरकार ने केजरीवाल की गुजरात की चुनावी यात्राओं की सुविधा के लिए प्रत्येक यात्रा के लिए क्रमशः 44 लाख रूपए और 55 लाख रुपए की लागत से दो बार निजी जेट किराए पर लिए थे। ऐसा लगता है कि आप पार्टी के संयोजक देश भर में घूमना चाहते हैं और मान पंजाबियों की ओर से इस बिल का खर्चा उठाने के लिए आगे आए हैं।

डॉ. चीमा ने मुख्यमंत्री से दस सीटों वाले दस सीटर डसॉल्ट फाल्कन 2000 फिक्सड विंग विमान को एक साल की अवधि के लिए किराए पर लेने के फैसले को वापस लेने की मांग करते हुए कहा कि इस फिजुलखर्ची को इस तथ्य को ध्यान में रखते हुए बर्दाश्त नही किया जा सकता कि किसानों को फसल क्षति के लिए मुआवजा नहीं दिया गया तथा वंचित वर्गों को सामाजिक लाभ नही मिल रहा और नौजवानों को नौकरियों से वंचित किया जा रहा है। आप पार्टी की सरकार पहले से राज्य के हेलीकॉप्टर से यात्रा करने पर करोड़ों रूपए खर्च कर चुकी है। फिक्सड विंग एयरक्राफ्ट की सेवाएं लेने से राज्य का बोझ और बढ़ जाएगा।

अकाली नेता ने सुरक्षा चिंताओं के बहाने राज्य के हेलीकॉप्टर के साथ साथ निजी चार्टड उड़ानों पर होने वाले खर्च को छिपाने के लिए आप पार्टी की सरकार की आलोचना की। इस जानकारी को पहले कभी भी छुपाया नहीं गया और तथ्य यह है कि आप पार्टी की सरकार इसे छिपा रही है। उन्होंने हिमाचल प्रदेश में आप पार्टी के प्रचार के लिए राज्य के हेलीकॉप्टर का इस्तेमाल करने के लिए भी मुख्यमंत्री की निंदा की।