संयम लोढा का टिकिट कटने से कांग्रेस में इस्तीफों की झड़ी, निर्दलीय लड़ने का दबाव

सबगुरु न्यूज-सिरोही। कांग्रेस की पहली सूची जारी होने के बाद टिकट कटने से आहत नेताओं ने बगावती तेवर अपना लिए हैं। सिरोही कांग्रेस में भी पूर्व विधायक संयम लोढ़ा को दरकिनार कर जिलाध्यक्ष जीवाराम आर्य को उम्मीदवार बनाने जाने से जबरदस्त आक्रोश के हालात बन गए हैं। 2 हजार से ज्यादा पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने अपने इस्तीफे भेज दिए हैं।

शिवगंज में अपने आवास पर संयम लोढ़ा
शिवगंज में अपने आवास पर संयम लोढ़ा

वहीं आक्रोशित कार्यकर्ता लोढा पर निर्दलीय चुनाव लड़ने का दबाव बना रहे हैं। पूर्व विधायक लोढ़ा ने कार्यकर्ताओं से रायशुमारी के बाद शनिवार को कोई बडा फैसला ले सकते हैं।

सिरोही विधानसभा में कांग्रेस का टिकिट संयम लोढ़ा को नहीं देने से सिरोही में उनके समर्थक नाराजगी फैल गई। कांग्रेस जिलाध्यक्ष पर भीतरघात का आरोप लगाते हुए संगठन के ब्लॉक अध्यक्ष, युवक कांग्रेस, एनएसयूआई, महिला कांग्रेस व अन्य मुख्य एवं अनुषांगिक संगठनों के पदधिकारिययों समेत 2 हजार से ज्यादा कार्यकर्ताओं ने जिलाध्यक्ष को अपने इस्तीफे भेज दिए हैं।

शिवगंज में बड़गांव स्थित लोढ़ा के आवास पर निर्दलीय चुनाव लड़ने के लिए अपना समर्थन दिखाने आये कांग्रेसी।
शिवगंज में बड़गांव स्थित लोढ़ा के आवास पर निर्दलीय चुनाव लड़ने के लिए अपना समर्थन दिखाने आये कांग्रेसी।

खफा कार्यकर्ताओं ने सिरोही जिले की तीनों सीटों समेत पडोसी जिलों की सीटों को भी प्रभावित करने का दावा किया है। सभी पदाधिकारी किसी तरह के नेगोशिएशन करने की बजाय निर्दलीय के रूप में अपना आवेदन भरने के लिए उनसे अनुरोध करते नजर आए।

कार्यकर्ताओं का कहना है की सिरोही जिले में संयम लोढ़ा ने कांग्रेस को खड़ा करने के लिए अपना खून पसीना एक कर दिया। अब जब लोगों के बीच विश्वास जमाकर काम करने का मौका देने का समय आया तो आलाकमान ने उनका टिकिट काटकर सिरोही की जनता के साथ कुठाराघात किया है, पार्टी को उसका खामियाजा भुगतना होगा।