शिक्षा नीति 2020 के लिए जन जागरण में जुटें पूर्व छात्र : गोविन्द कुमार

विद्या भारती चित्तौड़ प्रान्त की पूर्व छात्र परिषद की ऑनलाइन कॉन्फ्रेंस
अजमेर। करीब 34 साल बाद आई भारत की नई शिक्षा नीति 2020 भारत में अवसाद मुक्त- अवसरयुक्त और भारत केंद्रित शिक्षा देने वाली नीति है।

वास्तव में आजादी के इतने साल बाद पहली बार कोई शिक्षा नीति भारत केंद्रित शिक्षा की बात करती है साथ ही बच्चों के बचपन के साथ न्याय करते हुए मातृभाषा में प्राथमिक शिक्षा पर जोर देती है इसलिए विद्या भारती का इस शिक्षा नीति का पूर्ण समर्थन है और इसे लागू करने में पूर्ण सहयोग भारत सरकार को रहेगा।

विद्या भारती के संपूर्ण देश में फैले हुए पूर्व छात्रों को शिक्षा नीति के लिए व्यापक जन जागरण का हिस्सा बनना चाहिए यह बात रविवार को संपन्न हुई विद्या भारती चित्तौड़ प्रांत पूर्वछात्र परिषद की ऑनलाइन कॉन्फ्रेंस में प्रांत संगठन मंत्री गोविंद कुमार ने कही।

बैठक में प्रान्त के 12 जिलों से 74 प्रतिनिधियों ने भाग लिया। बैठक में जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि विद्या भारती शिक्षा क्षेत्र में काम करने वाला देश का एक प्रमुख संस्थान है अतः नई शिक्षा नीति 2020 के प्रति व्यापक जन जागरण देशभर में करने के लिए विद्या भारती ने My NEP नाम से विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन किया है।

इस ऑनलाइन प्रतियोगिता में कक्षा 9 में पढ़ने वाले विद्यार्थियों से लेकर ऊपर के सभी विद्यार्थी और अन्य नागरिक भी भाग ले सकते है। इसकी अधिक जानकारी www.mynep.in पर जाकर ली जा सकती है। कार्यक्रम के अंत मे पूर्वछात्र परिषद के प्रांत प्रमुख राजेन्द्र सिंह ने सभी का धन्यवाद ज्ञापित किया।