महिला से बोले मोहन भागवत, नहीं हूं राजनीतिक व्यक्ति

RSS chief Mohan Bhagwat
RSS chief Mohan Bhagwat

टीकमगढ़। मध्यप्रदेश के टीकमगढ़ जिले स्थित रामराजा सरकार मंदिर में उस समय अजीबोगरीब स्थिति बन गई, जब वहां दर्शन के लिए पहुंचे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत को एक महिला दर्शनार्थी अपनी मांगों से जुड़ा ज्ञापन देने पहुंच गई।

भागवत बुधवार को ओरछा स्थित इस प्रसिद्ध मंदिर में दर्शन के लिए पहुंचे थे। इसी दौरान वहां मौजूद एक संविदा कर्मचारी भागवत के पास तक पहुंच गई और उन्हें अपनी मांगों से जुड़ा ज्ञापन देने की कोशिश करने लगी।

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक महिला ने कहा कि प्रदेश में संविदा कर्मचारी लगातार आंदोलन कर रहे हैं और राज्य के करीब ढाई-पौने तीन लाख कर्मचारियों को नियमित कराने के लिए भागवत मदद करें।

इस पर भागवत ने कहा कि वे कोई राजनीतिक व्यक्ति नहीं हैं और इस नाते उसकी कोई खास मदद नहीं कर सकते। हालांकि उन्होंने महिला को आश्वासन दिया कि उसका ज्ञापन यथास्थान पहुंचा दिया जाएगा।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेश खाका ने बताया कि मंदिर परिसर के भीतर एक संविदा कर्मचारी महिला भागवत के पास पहुंच गई थी और उसने उन्हें ज्ञापन देने की कोशिश की। मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने महिला को वहां से हटा दिया। प्रदेश में संविदा कर्मचारी पिछले करीब एक महीने से अपनी मांगों को लेकर अांदोलन कर रहे हैं।