RSS की तीन दिवसीय बैठक शुरू, राम मंदिर मसले पर होगी चर्चा

मुंबई। अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के संबंध में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की तीन दिवसीय बैठक आज पालघर में शुरू हो गई।

आरएसएस के अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख अरुण कुमार ने कहा कि आरएसएस का विचार है कि विवादित स्थल पर ही राम का मंदिर बनाया जाए। उच्चतम न्यायालय को शीघ्र इस मामले में निर्णय करना चाहिए।

यदि किसी प्रकार की समस्या है तो केन्द्र सरकार को कानून बनाकर समस्या को दूर करना चाहिए और राम जन्म स्थान भूमि को श्री रामजन्म भूमि न्यास को सौंप देना चाहिए। उन्होंने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण से देश में एक अच्छा माहौल बनेगा और सदभावना बढ़ेगी।

उन्होंने दावा करते हुए कहा कि इलाहाबाद उच्च न्यायालय के निर्णय से पता चलता है कि विवादित स्थान पर राम जन्म स्थल है और विवादित ढांचा के पूर्व वहां मंदिर था। अब सिर्फ राम मंदिर के निर्माण के लिए निर्णय लेना है।

आज की बैठक के संबंध में उन्होंने कहा कि आरएसएस कार्य की समीक्षा के लिए वर्ष में दो बार बैठक करती है। पहली बैठक अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा मार्च में होती है और दूसरी बैठक छह माह में दशहरा या दीपावली के समय अखिल भारतीय कार्यकारी मंडल के रूप में की जाती है।