दुनिया में उथल पुथल मची है, मानवता के लिए भारत का ताकतवर होना जरूरी: मोदी

बहराइच। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वैश्विक स्तर पर मची उथल पुथल का हवाला देते हुए कहा है कि समूची मानवता के कल्याण के लिए भारत का ताकतवर होना बहुत जरूरी है और उत्तर प्रदेश में हर मतदाता का एक एक वोट भारत को ताकतवर बनाएगा।

मोदी ने मंगलवार को उत्तर प्रदेश में बहराइच के पयागपुर में भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवारों के पक्ष में आयोजित एक जनसभा को संबाेधित करते हुए मतदाताओं को बताया कि किस प्रकार उनका एक एक वोट भारत को मजबूती प्रदान करेगा। उन्होंने कहा कि आप देख रहे हैं कि इस समय दुनिया में कितनी उथल-पुथल मची हुई है। ऐसे में आज भारत का ताकतवर होना, भारत और पूरी मानवता के लिए बहुत जरूरी है। आज आपका एक-एक वोट भारत को ताकतवर बनाएगा। महाराजा सुहेलदेव की धरती के लोगों का एक-एक वोट, देश को मजबूती देगा।

उन्होंने देश की मजबूती के लिए उत्तर प्रदेश काे भी मजबूत बनाने की जरूरत पर बल दिया। मोदी ने कहा कि हर भारतीय का ध्येय एक विकसित और समृद्ध भारत है। इस समृद्ध भारत के लिए उत्तर प्रदेश का विकसित और समृद्ध होना उतना ही जरूरी है। उत्तर प्रदेश आज विकास के जिस रास्ते पर चल पड़ा है, उसमें डबल इंजन की सरकार उतनी ही जरूरी है। जब कठिन समय होता है, तब कठोर नेता की जरूरी होता है।

प्रधानमंत्री ने समाजवादी पार्टी को ‘परिवारवादी’ और ‘माफियावादी’ बताते हुए उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के मद्देनजर मतदाताओं को सचेत किया और कहा कि अगर माफियावादियों को सत्ता में आने का मौका मिल गया तो गांव गरीब के कल्याण की योजनाएं बंद कर दी जाएंगी। उन्हाेंने कहा कि परिवारवादी लोग 2017 में मिली हार का बदला आपसे लेने की फिराक में बैठे हैं। इसके हवाले से मोदी ने मतदाताओं को आगाह किया कि किसी भी कीमत पर परिवारवादियों और माफियावादियों को सत्ता में नहीं आने दें।

मोदी ने दलील दी कि मैंने 2014 से लेकर 2017 तक इन घोर परिवारवादियों का, उनका कामकाज, उनका कारोबार, उनके कारनामें बहुत करीब से देखे हैं। उस दौर में जनता के साथ बहुत भेदभाव होता था। उन्होंने कहा कि भाजपा की योगी सरकार के प्रयासों की वजह से अब उत्तर प्रदेश में डर का माहौल दूर हो रहा है। जनसामान्य के लिए आगे बढ़ने के रास्ते खुल रहे हैं, नए रास्ते बन रहे हैं, क्योंकि प्रदेश में अब जनकल्याण के काम बिना किसी भेदभाव और बिना किसी तुष्टीकरण के हो रहे हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने गरीबों के जीवन में सुरक्षा कवच प्रदान करने वाली योजनाओं से हुए लाभ का भी मतदाताओं के समक्ष जिक्र किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना और प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना सहित अन्य योजनाओं के कारण कमजोर वर्गों के जीवन में सकारात्मक बदलाव आया है।

मोदी ने कहा कि इन योजनाओं के माध्यम से हमने गरीब को 2-2 लाख रुपए का सुरक्षा कवर दिया। आज यूपी के साढ़े 4 करोड़ से ज्यादा मेरे गरीब भाई बहन इन योजनाओं से जुड़े हुए हैं। आपको जानकर खुशी होगी कि यूपी के गरीब परिवारों को बीते वर्षों में करीब 1,000 करोड़ रुपए की मदद सीधे उनके खाते में दी गई है।

उन्होंने भाजपा सरकारों की गरीबों के प्रति संवेदनशीलता का जिक्र करते हुए कोरोना काल में कमजोर वर्ग के लोगों की मदद के लिए किए गए कामों का भी उल्लेख किया। मोदी ने कहा कि हमारी सरकार संकट के समय कभी भी किसी का साथ नहीं छोड़ती, बल्कि गरीब परिवार का संबल बनकर खड़ी रहती है। गरीबों के लिए सरकार की इसी संवेदनशीलता को इस कोरोना के काल में भी देखा है और महसूस किया है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि पूरे देश में 80 करोड़ लोगों को करीब 2 साल से मुफ्त में राशन मिल रहा है और हमारे उत्तर प्रदेश में 15 करोड़ लोगों को मुफ्त में राशन पहुंचा है। गरीब आज भाजपा को आशीर्वाद दे रहा है। उन्होंने मतदाताओं को सचेत भी किया कि एक तरफ भाजपा सरकार कोरोना काल में लोगों की मदद कर रही थी, मुफ्त में टीकाकरण करवा रही थी और परिवारवादी लोग कोरोना के टीके के बारे में भ्रम फैला रहे थे।

मोदी ने कहा कि वैक्सीन को लेकर इन लोगों ने आप लोगों को उकसाया कि ये तो भाजपा की वैक्सीन है, भाजपा के कमल वाली वैक्सीन है, इसलिए वैक्सीन मत लगाओ। जैसे वैक्सीन में आपने उनकी बातें नहीं सुनी, वैसे चुनाव में भी उनकी बातें मत सुनना।

प्रधानमंत्री मोदी ने सपा पर निशाना साधते हुए कहा कि परिवारवादियों को भाजपा सरकार से परेशानी होने की वजह गरीबों के हक को हजम कर जाने वाले परिवारवादियों का भ्रष्टाचार खत्म होना है। उन्होंंने कहा कि देश के एक पूर्व प्रधानमंत्री को एक बार कहना पड़ा था कि दिल्ली से गरीबों के लिए भेजे गए एक रुपए में से सिर्फ 15 पैसे लाभार्थी तक पहुंचते हैं। मोदी ने कहा कि उस समय उन प्रधानमंत्री ने यह नहीं बताया कि गरीब के हक का 85 पैसा किसकी जेब में जाता है।

उन्होंने दावा किया कि भाजपा सरकार ने अब गरीब के हक का पूरा एक रुपया लाभार्थी के खाते में पहुंचाने के लिए जनधन खाते खुलवाए थे। मोदी ने कहा कि गरीब का हक हजम करने वाले परिवारवादियों ने जनधन खाताें का भी मजाक उड़ाया था, क्योंकि जनधन खातों ने इन बिचौलियों के लिए आपका हक लूटने के दरवाजों को बंद कर दिया।

प्रधानमंत्री ने कहा कि जनधन खाते के साथ जब हमने मोबाइल फोन और आधार को जोड़ा तो ये सुरक्षा चक्र और मजबूत हो गया। अब हमारे छोटे किसानों, पशुपालकों, मछली पालकों को भी जन धन खातों के कारण बैंकों से आसान ऋण मिलना संभव हो पाया है। जनसभा में प्रधानमंत्री मोदी ने सपा पर आतंकवादियों के प्रति हमदर्दी रखने का भी आरोप लगाया।

उन्होंने कहा कि बहराइच की ये धरती हमेशा से आक्रमणकारियों के मंसूबे ध्वस्त करती रही है। देश के खिलाफ जाने वालों को यहां की मिट्टी माफ नहीं करती है। लेकिन इसी मिट्टी ने देखा है कि कैसे इन परिवारवादियों ने आतंकी हमला करने वालों पर अपना प्यार उड़ेला।

उन्होंने 2014 से 2017 के बीच प्रदेश में हुए आतंकवादी हमलों के मामलों में अदालती फैसलों का उल्लेख करते हुए पिछली सपा सरकार पर आतंकी संगठनों को प्रतिबंधत करने की खिलाफत करने का भी आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि समाजवादी सरकार, आतंकी संगठनों पर प्रतिबंध लगाने तक के खिलाफ थी। इसलिए मैं कहता हूं कि जो लोग देश की नहीं सोच सकते, देश की सुरक्षा को ताक पर रखते हैं, वो यूपी का कभी भला नहीं कर सकते।

मोदी ने कहा कि जिन लोगों पर यूपी में एक नहीं बल्कि कई-कई बम धमाकों का आरोप था, ये लोग उन आतंकवादियों को जेल से रिहा करने का पक्का निर्णय करके बैठै थे। उन्होंने कहा कि ये आतंकवादियों पर मुकदमा तक नहीं चलाना चाहते थे। अभी 2 दिन पहले अहमदाबाद के न्यायालय ने अनेक लोगों को फांसी की सजा सुनाई, जिन्होंने बम धमाके करके निर्दोषों को मार दिया था। न्यायालय ने ये सही काम किया, हमें न्यायपालिका का सम्मान करना चाहिए।

प्रधानमंत्री मोदी ने अदालत के फैसले पर विपक्षी दलों की चुप्पी पर चुटकी लेकर कहा कि लेकिन ये लोग चुप बैठे हैं, क्योंकि इनकों मालूम है कि अब सारा खेल जनता के सामने खुल चुका है। कौन किसकी मदद कर रहा था, ये अब उत्तर प्रदेश का बच्चा बच्चा जान चुका है।