सबरीमला : ववार मस्जिद प्रवेश के दौरान तीन महिलाएं हिरासत में

सबरीमला। भगवान अयप्पा की तीन महिला श्रद्धालुओं को पल्लाकाड जिले के कोझिंजमपारा में सोमवार को उस समय हिरासत में लिया गया जब वे अयप्पा मंदिर के रास्ते में इरुमेली स्थित ववार मस्जिद में प्रवेश करने का प्रयास कर रही थीं।

पुलिस ने मंगलवार को बताया कि तमिलनाडु की तिरुपुर निवासी सुशीला देवी (35) और रेवती (39) तथा तिरुनेल्वेली निवासी गांधीमती (51) को सोमवार को पल्लाकाड के वंदीथावलम सुरक्षा नाके पर पहुंचने के बाद तीन अन्य पुरुष श्रद्धालुओं के साथ हिरासत में ले लिया।

महिला श्रद्धालु भगवान अयप्पा मंदिर की तरह ववार मस्जिद में प्रवेश की इजाजत देने की मांग कर रही थीं। गौरतलब है कि उच्चतम न्यायालय ने गत 28 सितंबर को अयप्पा मंदिर में सभी उम्र की महिलाओं को प्रवेश की इजाजत दे दी थी।

पल्लाकाड पुलिस उपाधीक्षक जीडी विजयकुमार के नेतृत्व में पुलिस टीम ने इन महिलाओं को हिरासत में लिया। दरअसल पुलिस को खुफिया सूचना मिली थी कि तमिलनाडु हिंदू मक्कल काची की ववार मस्जिद में महिलाओं को भेजने की योजना है।

ववार मस्जिद मामले को लेकर सांप्रदायिक तनाव फैलने की आशंका को देखते हुए तमिलनाडु से सटे पल्लाकाड जिले की तमाम प्रवेश स्थलों पर तलाश अभियान तेज कर दिया गया था। पुलिस का ध्यान बंटाने के लिए महिला टीम ने वालयार सुरक्षा नाके के स्थान पर वंदीथावलम नाके को चुना।

महिलाओं के इरुमेली पहुंचने की पूर्व सूचना पर पुलिस ने इलाके को चारों ओर से घेर लिया तथा उनके मस्जिद में जाने के प्रयास को विफल कर दिया। महिलाओं ने हालांकि कहा कि वे आधिकारिक तौर पर पुलिस सुरक्षा की मांग करेंगी ताकि वे ववार मस्जिद में प्रवेश कर सकें।