अजमेर : सचिन पायलट ने किया इंदिरा गांधी की प्रतिमा का अनावरण

अजमेर। मोईनीया इस्लामिया स्कूल के बाहर स्टेशन रोड पर कपडों से ढंकी भारत रत्न स्वर्गीय इंदिरा गांधी की प्रतिमा का सोमवार को अनावरण हो ही गया। राजस्थान के उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने माना कि व्यस्तता के चलते मूर्ति का अनावरण नहीं किया जा सका और मूर्ति तीन वर्षों से कपड़े में लिपटी हुई बंद रही लेकिन आज यह मौका भी आ गया है।

प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष पायलट ने आज यहां भारत रत्न स्वर्गीय इंदिरा गांधी की मूर्ति का अनावरण करने से पहले मोईनीया इस्लामिया स्कूल मैदान पर जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य में कांग्रेस की सरकार नौजवानों के कंधे पर बनी है और यह बात वह राहुल गांधी को भी कह चुके है।

उन्होंने कहा कि उन्होंने जब प्रदेश अध्यक्ष पद तब संभाला था जब राज्य में कांग्रेस के 21 विधायक थे और आगे कांग्रेस की सरकार बनना मुश्किलों में था लेकिन उन्होंने युवाओं के साथ लगातार संघर्ष कर राज्य में कांग्रेस सरकार बनाने का काम किया है।

पायलट ने कहा कि राज्य सरकार संघर्षशील कार्यकर्ताओं को सम्मान देने के साथ साथ नौजवानों को रोजगार देने पर पूरा ध्यान दे रही है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार प्रशासन शहरों के संग योजना तैयार कर चुकी है और इसे जल्द ही शुरू किया जाएगा।

उन्होंने परिवहन विभाग में भ्रष्टाचार के मामले पर कहा कि दोषी बक्शे नहीं जाएंगे। आम बजट के सवाल पर पायलट ने कहा कि बजट आमजन के अनुरुप होगा और सभी वर्गों का इसमें ध्यान रखा जाएगा।

जनसभा के बाद सचिन पायलट ने पूर्व प्रधानमंंत्री स्वर्गीय इंदिरा गांधी की आदमकद मूर्ति का अनावरण किया तथा मूर्ति पर माल्यार्पण कर अपने श्रद्धा सुमन अर्पित किए।

उपमुख्यमंत्री पायलट का स्वागत

राजस्थान के उपमुख्यमंत्री एवं राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सचिन पायलट के अजमेर में प्रवेश करते ही जयपुर राड पर कांग्रेसियों ने भव्य स्वागत किया। इस अवसर पर अजमेर शहर जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष विजय जैन, देहात अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह राठौड़, प्रदेश सचिव महेंद्र सिंह रलावता, विधायक राकेश पारीक, अजमेर शहर जिला कांग्रेस कमेटी के महासचिव शिव कुमार बंसल, वरिष्ठ कांग्रेसी नेता राजेंद्र गोयल, भरत गोयल, अजमेर शहर जिला कांग्रेस कमेटी ओबीसी विभाग के संयोजक मामराज सेन, छात्र नेता लोकेश चारण, शिक्षक नेता विजय सोनी, कर्मचारी नेता अजय बंसल सहित कांग्रेस के कार्यकर्ता एवं पदाधिकारी उपस्थित थे।