हाईकोर्ट के निर्देश, सफाई कर्मियों की भर्ती लॉटरी के परिणाम रहेंगे सील बन्द

अजमेर। नगरीय निकायों में सफाई कर्मियों की भर्ती के लिए 27 जून को आयोजित होने वाली लॉटरी के परिणाम सील बन्द किए जाएंगे।

कलक्टर आरती डोगरा ने बताया कि स्वायत शासन विभाग के द्वारा जारी निर्देश के अनुसार राजस्थान हाईकोर्ट के आदेशानुसार लॉटरी के परिणाम का प्रकाशन अथवा घोषणा नहीं की जाएगी और ना ही अधिकारिक रूप से जारी किया जाएगा।

लॉटरी के परिणामों को लॉटरी समिति के सदस्यों से हस्ताक्षर कराने के उपरान्त सील बन्द करने के उपरान्त अग्रिम आदेश तक कार्यालय में सुरक्षित रखा जाएगा।

लॉटरी पटेल मैदान में, तैयारियां पूरी

जिले के नगरीय निकायों में सफाई कर्मियों की भर्ती के लिए 27 जून को 10 बजे पटेल मैदान में लॉटरी निकाली जाएगी। यह लॉटरी हाईकोर्ट के निर्देशानुसार आयोजित होगी। जिला प्रशासन ने इसके लिए तैयारियां पूरी कर ली हैं। कानून एवं शान्ति व्यवस्था बनाए रखने के लिए तीन कार्यपालक मजिस्ट्रेट नियुक्त किए गए हैं।

कलक्टर आरती डोगरा ने बताया कि सफाई कर्मचारियों की भर्ती को पारदर्शी तथा निष्पक्ष तरीके से सम्पादित करवाने के लिए कल 27 जून को पटेल मैदान में लॉटरी प्रक्रिया सम्पादित की जाएगी। इसके लिए राज्य सरकार द्वारा केन्द्रीकृत सॉफ्टवेयर बनाया गया है।

सॉफ्टवेयर पर कार्य करने के लिए एनआईसी को अधिकृत किया गया है। जिले के समस्त निकायों की लॉटरी पटेल मैदान में होगी। यह संपूर्ण प्रक्रिया हाईकोर्ट के निर्देशानुसार संपादित की जाएगी।

उन्होंने बताया कि लॉटरी का सॉफ्टवेयर स्वायत्त शासन विभाग द्वारा जयपुर मुख्यालय स्तर पर तैयार किया गया है। लॉटरी के लिए लॉटरी समिति का गठन किया गया है। लॉटरी पूर्णतया कम्प्यूटर के माध्यम से की जाएगी। इस प्रक्रिया के लिए प्रत्येक जिले को आईडी और पासवर्ड जारी किए गए है। इनसे लॉगइन करके ही लॉटरी प्रक्रिया अपनायी जा सकती है। यह प्रक्रिया पूरी तरह सें पारदर्शी रहेगी।

उन्होंने बताया कि सर्वप्रथम नगरीय निकाय में प्राप्त कुल आवेदन पत्रों का एवं वर्गवार प्राप्त आवेदन पत्रों का डिसप्ले किया जाएगा। नगरीय निकाय में कुल रिक्त पदों का एवं वर्तमान में प्रचलित आरक्षण के प्रावधानों के अनुसार कुल रिक्तियों का वर्गवार विभाजन डिसप्ले किया जाएगा।

लॉटरी में सर्वप्रथम भूतपूर्व सैनिक, उत्कृष्ट खिलाड़ी एवं विकलांगों की लॉटरी निकाली जाएगी। उक्त अभ्यर्थी अपने मूल संवर्ग के विरूद्ध चयनित होंगे। ऎसी स्थिती में जितने अभ्यर्थी जिस संवर्ग से चयनित होंगे, उतने पद उस संवर्ग में कम हो जाएंगे।

उन्होंने बताया कि भूतपूर्व सैनिक, उत्कृष्ट खिलाड़ी एवं विकलांगो की लॉटरी के पश्चात् वर्गवार आरक्षित सीटों का पुनः डिसप्ले किया जाना होगा। जिससे यह स्पष्ट हो सकेगा की उक्त कैटेगिरी के अभ्यर्थियों के चयन के पश्चात जिस संवर्ग के लिए अभ्यर्थियों का चयन हुआ है, उस मूल संवर्ग में रिक्त पदों की संख्या में उतनी ही कमी हो चुकी है।

तत्पश्चात अनुसूचित जाति वर्ग की परित्यक्ता की लॉटरी निकाली जाएगी, इसके पश्चात अनुसूचित जाति विधवा वर्ग की लॉटरी निकाली जाएगी। परित्यक्ता के पद रिक्त रहने की स्थिति में विधवा कैटेगिरी से उक्त पदों को भरा जाएगा एवं विधवा वर्ग के पद रिक्त रहने की स्थिति में उक्त पदों को परित्यक्ता कैटेगिरी से भरा जाएगा।

परित्यक्ता एवं विधवा के चयन से शेष रहे आवेदन पत्रों को अनुसूचित जाति सामान्य महिला की लॉटरी में सम्मिलित किया जाकर अनुसूचित जाति सामान्य महिला की लॉटरी निकाली जाएगी।

तत्पश्चात अनुसूचित जाति महिला के शेष रहे आवेदन पत्रों (अनुसूचित जाति परित्यक्ता, विधवा एवं अनुसूचित जाति की सामान्य महिला) को अनुसूचित जाति के पुरूष वर्ग के आवेदन पत्रों में शामिल किया जाकर, पुरूष वर्ग की लॉटरी निकाली जाएगी। यह प्रक्रिया अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग एवं अति पिछड़ा वर्ग के लिये भी की जाएगी।

उन्होंने बताया कि अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग एवं अति पिछड़ा वर्ग मेें परित्यक्ता/ विधवा वर्ग की महिलाओं के चयन से शेष रहे आवेदन पत्रों को सामान्य वर्ग की क्रमशः परित्यक्ता एवं विधवा महिलाओं के आवेदन पत्रों में शामिल कर क्रमशः सामान्य वर्ग की परित्यक्ता/विधवा वर्ग की लॉटरी निकाली जाएगी।

अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग एवं अति पिछड़ा वर्ग की महिलाओं (परित्यक्ता, विधवा एवं सामान्य महिला) के चयन से शेष रहे आवेदन पत्रों को सामान्य वर्ग की महिला के आवेदन पत्रों में शामिल किया जाकर सामान्य वर्ग की महिलाओं की लॉटरी निकाली जाएगी।

एवं सामान्य वर्ग की महिला की लॉटरी के शेष रहे आवेदन पत्रों एवं अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग एवं अति पिछड़ा वर्ग के पुरूष वर्ग में चयन से शेष रहे आवेदन पत्रों को सामान्य वर्ग के पुरूष के आवेदन पत्रों में शामिल किया जाकर वर्ग की लॉटरी निकाली जाएगी।

जिला कलक्टर ने बताया कि लॉटरी के दौरान कानून एवं शान्ति व्यवस्था बनाये रखने के लिए अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद श्री भगवत सिंह राठौड, तहसीलदार एडीए श्री रामसिंह एवं उप पंजीयक रामकुमार टाडा को कार्यपालक मजिस्ट्रेट बनाया गया है। सभी कार्यपालक मजिस्ट्रेट सुबह 9 बजे से प्रक्रिया समाप्ति तक पटेल स्टेडियम तक उपस्थित रहकर अपने कार्य को अंजाम देंगे।