अयोध्या में रोड शो पूरा नहीं कर सके अखिलेश यादव, हनुमानगढ़ी के किए दर्शन

अयोध्या। विधानसभा चुनाव के पांचवें चरण में ही उत्तर प्रदेश में सरकार बनाने के लिए पूर्ण समर्थन मिलने का दावा कर रहे समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने शुक्रवार को राम की नगरी अयोध्या में रोड शो किया मगर प्रचार की अवधि समाप्त होने पर उनको रोड शो बीच रास्ते में समाप्त करना पड़ा जिसके बाद उन्होंने प्रसिद्ध हनुमानगढ़ी में दर्शन पूजन कर विजयश्री का आशीर्वाद मांगा।

पांचवे चरण के चुनाव प्रचार के अंतिम दिन अखिलेश बहराइच में जनसभा करने के बाद अयोध्या पहुंचे थे जहां उन्होंने एक जनसभा को संबोधित करने के बाद नयाघाट बंधा तिराहा से रोड शो का आगाज किया। रोड शो का समापन फैजाबाद में होना था मगर वह चार किमी ही चले होंगे कि शाम के छह बज गए और उन्हें उदया पब्लिक स्कूल के पास रोड शो खत्म करना पड़ा। बाद में वह हनुमानगढ़ी के लिए रवाना हो गए जहां उन्होंने दर्शन पूजन करने के बाद महंत प्रेमदास रामायणी से भेंट कर उनसे आशीर्वाद लिया।

इससे पहले एक जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि सपा सरकार बनने पर अयोध्या को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर ले जाने का काम किया जाएगा। उन्होंने कहा कि अयोध्या के कण कण में भगवान राम हैं। यहां की गंगा-जमुनी तहजीब और मिली जुली संस्कृति है। मिलीजुली संस्कृति को बचाने के लिए भारतीय जनता पार्टी का सफाया करना होगा।

उन्होंने कहा कि समय-समय पर मुझे यहां के संतों से मिलने का मौका मिला है। अयोध्या पवित्र नगरी और पुण्य की धरती है। सपा सरकार जैसे ही बनेगी नगर निगम का पूरा टैक्स माफ होगा। साथ ही साथ तीन सौ यूनिट बिजली भी फ्री होगी। सर्किल रेट बढ़ाकर किसानों को छह गुना मुआवजा देने का काम सपा सरकार में होगा।

उन्होंने कहा कि सरकार बनने पर बीएड, टेट पास लोगों को समाहित किया जाएगा। अयोध्या का विकास होगा, लेकिन यहां के व्यापारियों का नुकसान नहीं होने पाएगा। उन्होंने कहा कि अयोध्या धार्मिक नगरी है इसके विकास में कमी नहीं आने देंगे, निरन्तर विकास करते रहेंगे। समाजवादी पार्टी की सरकार में हर काम अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर हुआ है, वह चाहे यमुना एक्सप्रेस वे रहा हो या अयोध्या में भजन स्थल। अयोध्या में अंडर ग्राउंड बिजली, सीवर लाइन, घाटों सडक़ों आदि का निर्माण भी सपा शासनकाल में हुआ है। सपा का हर काम बोलता है। यहां तक कि पूर्वांचल एक्सप्रेस वे भी पूर्वांचल सरकार की ही देन है।

उन्होंने कहा कि अयोध्या में भगवान श्रीराम के नाम पर लूट मची है। ऐसी लूट आज तक दुनिया में नहीं देखी। भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि यह लोग सुप्रीम कोर्ट के फैसले को अपना फैसला मान रहे हैं, जबकि कोर्ट के फैसले से मंदिर बन रहा है। अयोध्या श्रीराम की धरती पर सपा जीतने जा रही है। यहां के लोग इतना वोट डालेंगे कि बाबा मुख्यमंत्री की भाप निकल जाएगी। इस मौके पर अयोध्या विधानसभा के प्रत्याशी तेजनारायण पांडेय उर्फ पवन, करतलिया भजनाश्रम महंत रामदास त्यागी, स्वामी दिलीप दास त्यागी, पुजारी हेमन्त दास, पार्षद हाजी असद और महेन्द्र शुक्ला सहित कई संत-धर्माचार्य उपस्थित थे।