आर्यन खान से जुड़े क्रूज ड्रग मामले से हटाए गए समीर वानखेड़े

मुंबई। नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) के क्षेत्रीय निदेशक (जोनल डायरेक्टर) समीर वानखेड़े को शुक्रवार को बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान के पुत्र आर्यन खान से जुड़े क्रूज ड्रग मामले में मुख्य जांचकर्ता से हटाया गया।

सूत्रों के मुताबिक वानखेड़े की जगह वरिष्ठ भारतीय पुलिस सेवा अधिकारी और एनसीबी उप महानिदेशक (संचालन) संजय सिंह को नियुक्त किया गया है।

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के नेता और महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक द्वारा समीर वानखेड़े पर सरकारी नौकरी पाने के लिए जाली दस्तावेजों और अपने धर्म के बारे में झूठ बोलने का आरोप लगाने के बाद आईआरएस अधिकारी विवादों में घिर गए।

मलिक ने वानखेड़े के खिलाफ रिश्वत और जबरन वसूली के आरोप लगाए। जबकि एनसीबी क्षेत्रीय निदेशक ने इन सभी आरोपों का खंडन किया है। वानखेड़े ने दावा किया कि क्रूज ड्रग मामले में केंद्रीय जांच की मांग करने के बाद यह कदम उठाया गया है।

आर्यन खान एनसीबी के समक्ष पेश

बॉलीवुड अभिनेता शाहरूख खान के बेटे आर्यन खान अपने जमानत आदेश में निर्धारित हाजिरी लगाने के लिए शुक्रवार को नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) के सामने पेश हुए।

क्रुज ड्रग केस में 23 वर्षीय आर्यन को तीन अक्टूबर को गिरफ्तार किया गया था और मुंबई उच्च न्यायालय ने 30 अक्टूबर को उन्हें जमानत दी थी। अदालत ने उन्हें 14 शर्तों के साथ जमानत दी थी जिसमें हर शुक्रवार जांच एजेंसी के सामने पेश होना भी थी। आर्यन को 26 दिन हिरासत में रहने के बाद अदालत से कड़ी शर्तों पर जमानत मिली थी।