‘लाडली घर’ की दृष्टिबाधित कन्याओं की ओर से सुदरकांड पाठ

अजमेर। विश्व मित्र दृष्टिबाधित कन्या शिक्षण संस्थान व छात्रावास लाडली घर की ओर से आजाद पार्क अजमेर में श्रीसंदरकांड का संगीतमय पाठ 1008 आसनों पर आयोजित किया गया। लाडली घर की दृष्टिबाधित छात्राओं ने ब्रेललिपि के माध्यम से संगीतमय सुदरकांड का पाठ किया।

लाडली घर के संस्थापक संत डा कृष्णानंद गुरुदेव ने बताया कि अजमेर शहर में पहली बार इस तरह का अनूठा आयोजन हुआ है। इसमें शहर की सामाजिक व धार्मिक संस्थाओं का भरपूर योगदान रहा। अंत में तुलसी पौधों का वितरण किया गया।  लाडली घर की दृष्टि बाधित छात्राओं ने संगीत में ब्रेल लिपि से सुंदरकांड का पाठ किया जिसमें अंध विद्यालय आदर्श नगर के दृष्टिबाधित छात्रों ने एवं अपना घर के छात्रों ने भूमिका निभाई।

सीनियर सिटीजन सोसाइटी, तुलसी सेवा संस्थान, जय अंबे नवयुवक सेवा ट्रस्ट, श्री तुलसी जयंती महोत्सव समिति, गौड़ ब्राह्मण एवं सनाढ्य समाज सुधार समिति, साईं बाबा ट्रस्ट, श्री राम मानस मंडल, लायंस क्लब, विजयवर्गीय समाज, सारथी आपके साथ, श्री राधा कृष्ण सेवा संस्थान, यूथ क्लब शास्त्री नगर, लाडली लाल मंदिर समिति, वंडर फूड मार्ट, स्काउट एंड गाइड फैलोशिप संस्थान, श्री पालीवाल ब्रदर्स, तपस्वी भवन, दिल्ली वर्ल्ड पब्लिक स्कूल, उत्तर पश्चिम सेवानिवृत्त कर्मचारी कल्याण संघ आदि संस्थाओं ने कार्यक्रम को सफल बनाने में अपनी अहम भूमिका निभाई।   कुरुक्षेत्र अखाड़े से  महंत अमर गिरी जी, सेनापति  गौतम गिरी जी, संत पाठक जी महाराज आदि उपस्थित रहे।