भाजपा संतों की रक्षा एवं मान सम्मान के लिए भाजपा मजबूती से लड़ेगी : पूनियां

भरतपुर। राजस्थान के भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रदेश अध्यक्ष डा सतीश पूनियां ने ब्रज चौरासी क्षेत्र में अवैध खनन के खिलाफ संत समाज की मांगों का समर्थन एवं इन्हें पूरा करने की राज्य सरकार से मांग करते हुए कहा है कि भगवान श्रीकृष्ण की पवित्र भूमि ब्रज चौरासी और संतों की रक्षा एवं मान-सम्मान के लिए भाजपा प्रदेश में सड़क से लेकर सदन तक मजबूती से लड़ाई लड़ेगी।

डॉ. पूनियां भरतपुर जिले के पसोपा गांव पहुंचकर अवैध खनन के खिलाफ आत्मदाह करने वाले संत विजय दास को श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद संत समाज को संबोधित कर रहे थे। इससे पहले केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत, सांसद सुमेधानंद सरस्वती, सुखबीर सिंह जौनपुरिया एवं रंजीता कोली, पार्टी के प्रदेश महामंत्री भजनलाल शर्मा, प्रदेश उपाध्यक्ष मुकेश दाधीच, प्रदेश मंत्री महेंद्र जाटव, जिला अध्यक्ष शैलेश सिंह, जिला प्रमुख जगत सिंह आदि ने भी संत विजय दास के चित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की।

डा पूनियां ने कहा कि जब-जब देश और धर्म पर संकट आया भारत मां की रक्षा के लिए संत समाज ने अपने प्राणों का उत्सर्ग करने से कोई हिचक नहीं दिखाई। दुनिया गवाह है कि, भारत की धरती जहां भगवान राम पैदा हुए, इस धरती पर 500 वर्षों का संघर्ष और लाखों लोगों का बलिदान था, लाखों साधु संत बलिदान हो गए, साधुओं की तपस्या विफल नहीं हुई, पूरी दुनिया ने देखा कि अयोध्या की पवित्र राम जन्मभूमि पर भगवान राम के मंदिर का निर्माण प्रशस्त हुआ, जो भव्य और ऐतिहासिक मंदिर बन रहा है।

उन्होंने कहा कि जब बाबा विजयदास जीवन के अंतिम समय में जिंदगी और मौत से संघर्ष कर रहे थे तो मैं उनसे जयपुर में अस्पताल में मिलने गया, उस समय विकट पीड़ा और वेदना में भी वह राधे राधे का जाप कर रहे थे, तो यह उनके ब्रज चौरासी क्षेत्र की रक्षा के लिए समर्पण और संकल्प को दर्शाता है। उन्होंने कहा कि संत विजय दास ने इस पूरे ब्रज क्षेत्र को बचाने के लिए प्रकृति और पर्वत को बचाने के लिए पर्वत जैसा बलिदान दिया है जो व्यर्थ नहीं जाएगा।

डॉ. पूनियां के आह्वान पर जिला प्रमुख जगत सिंह ने संत विजय दास स्मृति स्थल और पसोपा के विकास में 30 लाख रुपए के विकास कार्य कराने स्वीकृति दी और सांसद रंजीता कोली ने 10 लाख रुपए देने की घोषणा की है।

डा पूनियां ने कहा कि भाजपा के भरतपुर जिले सभी जनप्रतिनिधि जो पसोपा के विकास में और संत विजय दास स्मृति स्थल के लिए जो सहयोग कर सकते हैं, वह सभी करेंगे। उन्होंने संत विजयदास के बलिदान को नमन करते हुए कहा कि हमारा धर्म और हमारी संस्कृति हमारी विरासत है, ऐसे में यदि कोई साधु, संत और महात्मा दिशा देकर जाता है तो समग्र हिंदू समाज को खड़ा होने की ताकत और प्रेरणा देता है।

इससे पहले भरतपुर में प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए डॉ. पूनियां ने कहा कि संत समाज के साथ भाजपा मजबूती से खड़ी हुई है, विजय दास का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा, संतों को न्याय दिलाने के लिए और अवैध खनन पर रोक लगवाने के लिए भाजपा संतों के संतों के साथ खड़ी हैं।

उन्होंने राज्य सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि किसान कर्जमाफी, भ्रष्टाचार, लचर कानून व्यवस्था, नकल माफिया, पेपर लीक माफिया, रेत माफिया, बजरी माफिया राज्य सरकार के कुशासन के प्रमाण हैं। राज्य सरकार की लापरवाही, उदासीनता के कारण संत विजय दास को अपने प्राणों का बलिदान देने के लिए मजबूर होना पड़ा।

उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि मुख्यमंत्री को अपनी कुर्सी की इतनी चिंता है कि इंटेलिजेंस और पुलिस को विधायकों की जासूसी में लगा रखा है और राज्य की कानून व्यवस्था एवं बहन बेटियों की सुरक्षा उनकी प्राथमिकता में नहीं है।

साधु के प्राणों की आहूति के बाद भी राज्य सरकार के कानों पर जूं तक नहीं रेंगी, संतों के आंदोलन को दबाने का षड़यंत्र करना और अवैध खनन को बढ़ावा देना यह राज्य सरकार की नीयत पर सवाल खड़ा करता है।

डा पूनियां ने कहा कि भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा के निर्देश पर केंद्रीय टीम ने पसोपा सहित आसपास के क्षेत्र में अवैध खनन और संत के आत्मदाह मामले को लेकर दौरा कर रिपोर्ट राष्ट्रीय अध्यक्ष को सौंपी है, जिसमें राज्य सरकार की पूरी तरह विफलता सामने आई है।

उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि मुख्यमंत्री ने अपनी कुर्सी बचाने के लिए कांग्रेस के विधायकों को लूट का लाइसेंस दे रखा है और जिस पुलिस और इंटेलिजेंस को जासूसी में लगा रखा है, उसे महिला सुरक्षा और राज्य की सुरक्षा में लगाया जाए तो राज्य हित में होगा।

उन्होंने दावा करते हुए विश्वास जताया कि कि अगले वर्ष प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कुशल नेतृत्व में और जनकल्याणकारी नीतियों से राजस्थान में प्रचंड बहुमत की भाजपा की सरकार बनेगी और भाजपा की यह सरकार ब्रज चौरासी क्षेत्र से लेकर समस्त राजस्थान के विकास के लिए प्रतिबद्ध होकर योजनाबद्ध तरीके से कार्य करेगी।

भाजपा की ओर से पसोपा गांव में संत विजयदास को दी पुष्पांजलि

राजस्थान में भरतपुर के डीग के पसोपा गांव मे अवैध खनन को लेकर 552 दिनों तक चले साधुसंतों के आंदोलन के दौरान पिछले दिनों आत्मदाह करने बाले संत विजयदास के आत्मदाह के मामले में भाजपा की ओर से आज पसोपा गांव में पुष्पांजलि कार्यक्रम आयोजित किया गया।

पुष्पांजलि कार्यक्रम में केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया, अलवर सांसद बाबा बालक नाथ, सीकर सांसद सुमेधानंद, सवाई माधोपुर सांसद सुखबीर सिंह जौनपुरिया, भरतपुर सांसद रंजीता कोली शामिल हुए।

केन्द्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने कहा कि संतों का मामला कोई राजनीतिक विषय नहीं है यह धार्मिक मान्यता और जन भावना के उल्लंघन का विषय है लेकिन धार्मिक प्रतिबद्धताओं से जुड़े पहाड़ों का सर्वनाश किया जा रहा था। मुख्यमंत्री के आश्वासन के बाद भी कार्रवाई नहीं हुई। संतों और स्थानीय लोगों के साथ विश्वासघात हो रहा था। उन्हें पुलिस के द्वारा दबाया जा रहा था।

उन्होंने कहा कि राजस्थान की सरकार तुष्टिकरण की नीति के तहत यह चाहती है कि कोई राजनीतिक दल या प्रतिनिधि हिंदुओं की आवाज न उठाए। उन्होंने करौली, भीलवाड़ा जोधपुर की घटनाओं के साथ उदयपुर में गला रेत दिए जाने एवं भरतपुर में संत के आत्मदाह के मामलों को एक साथ जोड़ते कहा कि इन सभी का जवाब राजस्थान के मुखिया को देना चाहिए।