रैली तो बहाना, पायलट और प्रभारी मंत्री तो नहीं निशाना!

सिरोही में प्रभारी मंत्री महेंद्र चौधरी और संयम लोढ़ा का अभिनंदन करते कांग्रेस जन।
सिरोही में प्रभारी मंत्री महेंद्र चौधरी और संयम लोढ़ा का अभिनंदन करते कांग्रेस जन।

सबगुरु  न्यूज-सिरोही। जयपुर में प्रस्तावित कांग्रेस की रैली की तैयारी बैठक में सिरोही विधायक संयम लोढ़ा के तेवर कुछ तल्ख नजर आए।

सिरोही ग्रामीण और शहरी ब्लॉक कॉंग्रेस की मीटिंग में सिरोही विधायक संयम लोढ़ा ने कहा कि कांग्रेस ने भांग खाकर टिकिट बांटे जिस कारण सिरोही, जालोर और पाली में विधानसभा चुनावों में कांग्रेस 14 में से सिर्फ 1 सीट जीत सकी। इस बयान के बहाने उन्होंने एक बार फिर तत्कालीन पीसीसी अध्यक्ष सचिन पायलट को अपने निशाने पर ले लिया है।

लोढ़ा ने कहा कि यहां कांग्रेस के लिए खड्डा खोदने वालों के साथ वहां काँग्रेस नेता फोटो खिंचवाते हैं। ऐसे में वो पायलट के साथ साथ जिले के प्रभारी मंत्री पर भी निशाना साधते नजर आए, जो कथित रूप से दो दिन से उन लोगों के साथ भी दिखे जिन पर सिरोही में विधानसभा और पंचायत चुनावों में कांग्रेस को हराने का आरोप लगा।  रविवार को तो पिंडवाड़ा में इसी मुद्दे पर कांग्रेस की बैठक में जबरदस्त बहस हो गई।
लोढ़ा के इस तरह से भड़कने की वजह प्रभारी मंत्री द्वारा बैठक में ही कहा गया वो वक्तव्य था जिसमें उन्होंने जिले में कांग्रेस के कमजोर होने की बात कही थी।
संयम लोढ़ा ने अपने उदबोधन में कांग्रेस के अलावा भाजपा की कल की रैली ओर भी निशाना साधा उन्होंने कहा कि हाल में विधानसभा के उप चुनावो में जमानत जब्त करवाने और तीसरे नम्बर पर आने वाली पार्टी को ये अहंकार शोभा नहीं देता।

उन्होंने कहा कि अशोक गहलोत में लोगों का आज भी विश्वास है और उनकी लोकप्रियता बरकरार है। लोढ़ा ने कहा कि लोग भले माने कि रैलियों से कुछ नहीं होता लेकिन, इसमे कोई दो राय नहीं कि रैलियों से जनता में ये विश्वास पैदा होता है कि सरकार कुछ गलत करेगी तो उनकी आवाज बनेगी। भाजपा ने जिस तरह से सत्ता में आते ही आमजनता का शोषण किया है उसके खिलाफ आक्रोश का प्रदर्शन है जयपुर में आयोजित रैली। इसलिए इसमें ज्यादा से ज्यादा लोगों को हिस्सा लेना है।