अरे छाती कूटा म्हारा जीव लियां बिना थने चैन नी पड़े ? ओ की थारो बाप ढोली चाय ?

sardar joks husband wife joks teacher student joks santa banta joks
sardar joks husband wife joks teacher student joks santa banta joks

गाँव के भोले लोग, शहर में एक शादी के रिसेप्शन में गए,

अंदर गये तो इतने सारे सलाद की आइटम देख कर बाहर आ गये,
बाहर आकर एक बोला…

अभी तो सब्जी भी नहीं बनी है…!!! कटी धरी है !!


अध्यापक –
टेबल पर चाय किसने गिराई? इसे अपनी मातृभाषा मे बोलो ।

छात्र –
मातृभाषा मतलब मम्मी की भाषा में ?

अध्यापक – हां ।

छात्र – अरे छाती कूटा म्हारा जीव लियां बिना थने चैन नी पड़े ? ओ की थारो बाप ढोली चाय ?

अध्यापक बेहोश !…


स्कूल का निरीक्षण चल रहा था।

निरीक्षक लड़कों से- ‘सावधान’।

कोई हिला तक नहीं।

निरीक्षक- ‘विश्राम’।

सब वैसे ही खड़े रहे।

निरीक्षक-(हेड मास्टर से)
क्या है ये.. इनको इतना भी नहीं आता।

हेडमास्टर- ऐसा नहीं है सर, मैं करवाता हूँ।

हेड मास्टर- ‘सूधा ……सट्ट ।
सब सावधान हो गए।

हेड मास्टर : ‘ढिलो …..धस्स ।
सब विश्राम हो गए।

हेड मास्टर( निरीक्षक से) –
यो राजस्थान छ भाया। तोहार दिल्ली नाही।

निरीक्षक बेहोश। 😀