इस बार नहीं सुनाई दी स्कूलों की घंटी और न ही बच्चों ने बैग संवारे

School not open in this July 2020 due to coronavirus
School not open in this July 2020 due to coronavirus

सबगुरु न्यूज। आज 1 जुलाई है। हर साल इस तारीख को बच्चों के साथ अभिभावकों की भी अन्य दिनों के मुकाबले भागदौड़ ज्यादा शुरू हो जाती है। जून के आखिरी सप्ताह से ही आमतौर पर स्कूल खुलने को लेकर बच्चे तैयारी में जुट जाते हैं। लेकिन इस बार ऐसा कुछ नहीं हुआ है। हम आपको बता दें कि देश भर में स्कूल कॉलेज 1 जुलाई से ही खुलने शुरू हो जाते हैं।‌ स्कूल खुलते ही गर्मियों की छुट्टी का समापन भी माना जाता है।‌ लेकिन आज ऐसा कुछ भी नहीं हुआ जो हर साल होता आया है न स्कूलों की घंटी बजी न बच्चों ने अपने बैग संवारे और नहीं सड़कों पर रौनक दिखाई दी।

कोरोना महामारी ने शिक्षा के क्षेत्र में भी जबरदस्त ग्रहण लगा दिया है। पिछले 3 महीने से देशभर के बंद स्कूल कॉलेज में वीरानी छाई हुई है।‌ यह शायद इतिहास में पहली बार हुआ होगा कि जुलाई माह की शुरुआत हो गई है लेकिन अभी तक केंद्र और राज्य सरकारें या शिक्षा मंत्रालय तय नहीं कर पा रहा है कि बंद पड़े स्कूल कॉलेजों को कब खोला जाए।‌ विद्यार्थी स्कूल जाने के लिए तैयार बैठे हुए हैं लेकिन उनको इस महामारी का भी डर सताने लगा है। सरकार ने 1 जुलाई से शुरू होने वाले अनलॉक 2 के लिए मंगलवार को गाइडलाइन जारी की है। इसके मुताबिक,सभी स्कूल, कॉलेज, कोचिंग संस्थान व अन्य शैक्षणिक संस्थान 31 जुलाई तक बंद रहेंगे। केंद्र और राज्य के ट्रेनिंग संस्थान 15 जुलाई से शर्तों के साथ खुल सकते हैं।

स्कूल-कॉलेजों को खोलने के लिए अभी शिक्षा मंत्रालय और सरकारें नहीं तय कर पा रही हैं

बता दें कि देशभर में स्कूल, कॉलेज कोरोना वायरस महामारी की वजह से मार्च के महीने से ही बंद हैं। वहीं अनलॉक-1 की गाइडलाइन में सरकार ने कहा था कि स्कूल और शैक्षणिक संस्थानों को खोलने के बारे में निर्णय जुलाई में स्थिति को ध्यान में रखकर लिया जाएगा। ‌ लेकिन इस बार 1 जुलाई से शुरू हुए अनलॉक 2 में भी सरकार ने अपने इरादे जता दिए हैं कि अभी स्कूल खोलने की हाल फिलहाल में कोई योजना नहीं है।

शिक्षण संस्थान बंद होने की वजह से बच्चों की पढ़ाई के नुकसान को कम करने के लिए सरकार उन्हें ऑनलाइन ही पढ़ाने के काफी प्रयास किए जा रहे हैैं। यहां आपको बता दें कि कुछ राज्यों ने जुलाई से स्कूल खोलने की तैयारी भी कर ली थी। चर्चा भी होने लगी कि जुलाई से अधिकांश स्कूल खोल दिए जाएंगे, लेकिन अब केंद्र सरकार ने इस बात पर विराम लगा दिया है। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा है कि अभी स्कूल खोले जाने को लेकर कोई तारीख तय नहीं की गई है। कोरोना के वर्तमान हालात को देखते हुए, मानव संसाधन विभाग अगस्त के बाद इस पर कोई फैसला लेगा। निशंक ने साफ किया है कि अगस्त 2020 के बाद ही स्कूलों को दोबारा खोलने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

कोरोना को लेकर स्कूल खुलने पर बच्चों और अभिभावकों में डर भी सता रहा है

कोरोना वायरस और लॉकडाउन के बीच देश के करोड़ों स्टूडेंट्स, पैरेंट्स और टीचर्स को ये बात सता रही है कि स्कूलों का संचालन कैसे किया जाएगा? स्कूल कब से खोले जाएंगे? इसे लेकर कई कयास भी लगाए जा रहे हैं। अनलॉक 2 को लेकर केंद्र सरकार की तरफ से लिए गए फैसले के बाद से ही पैरेंट्स और स्टूडेंट्स को बड़ी राहत मिली है। दरअसल रोजाना सामने आ रहे कोरोना के मामले को देखते हुए ज्यादातर अभिभावक अभी स्कूल-कॉलेजों को खोलने के पक्ष में नहीं हैं।

देश में कोरोना के मामले सामने आने के बाद मार्च से ही पूरे देश में लॉकडाउन कर दिया गया था। इसके साथ ही सभी स्कूल-कॉलेज सहित अन्य शिक्षण संस्थान भी बंद कर दिए गए थे। करीब तीन महीने से ज्यादा समय से स्कूल कॉलेज और अन्य संस्थान भी बंद चल रहे हैं। इसके अलावा देशभर के बड़े और छोटे कोचिंग संस्थान भी अभी नहीं खुल पाए हैं। दूसरी ओर कई निजी स्कूलों ने भी मानव संसाधन विकास मंत्रालय को सुरक्षा मानकों के साथ स्कूल खोलने की सलाह दी थी, लेकिन मंत्रालय को अभी स्कूल खोलने की कोई जल्दी नहीं है। मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने साफ कर दिया है कि जब तक यह महामारी कुछ कम नहीं हो जाती है या हालात काबू में नहीं होते जब तक स्कूल-कॉलेजों को खोलने पर विचार नहीं किया जा सकता है‌‌‌‌।

शंभू नाथ गौतम, वरिष्ठ पत्रकार