उद्धव ठाकरे गुट को उपचुनाव के लिए मशाल का चुनाव चिन्ह मिला

नई दिल्ली। भारत चुनाव आयोग ने शिवसेना के एकनाथ शिंदे और उद्धव ठाकरे धड़ों के बीच चुनाव चिन्ह और पार्टी के नाम को लेकर चल रहे विवाद बीच उद्धव धड़े को ताजा उपचुनाव के लिए मशाल (फ्लेमिंग टार्च) चुनाव चिन्ह आबंटित किया है।

आधिकारिक जानकारी के अनुसार चुनाव आयोग ने उद्धव ठाकरे को पत्र लिखकर बताया कि उनके द्वारा सुझाए गए पार्टी का नाम शिवसेना (बालासाहेब ठाकरे) इसलिए मंजूर नहीं किया जा सकता क्यों कि यह विवाद के दूसरे पक्ष एकनाथ संभाजी शिंदे की भी पहली पाथमिकता में है। चुनाव आयोग ने कहा कि पार्टी के नाम के लिए आपकी दूसरी वरियता शिवसेना (उद्धव बाला साहेब ठाकरे) को मंजूरी दी जाती है।

इसी तरह शिवसेना पार्टी (उद्धव) के चुनाव चिन्ह हो लेकर चुनाव आयोग ने कहा कि आपके द्वारा सुझाए गए चुनाव चिन्ह ‘त्रिशूल’ मुक्त चुनाव चिन्ह नहीं है और यह धार्मिक प्रतीकों में शुमार होने के साथ दूसरे पक्ष की वरीयता सूची में भी शामिल है। लिहाज इसे मंजूर नहीं किया जा सकता। पत्र में कहा गया कि जब तक विवाद का अंतिम निर्णय नहीं हो जाता और ताजा उपचुनाव में शिवसेना के उद्धव धड़े को ‘जलती हुई मशाल’ चुनाव चिन्ह आवंटित किया जाता है।