शेयर बाजार में तेजी पर लगा ब्रेक सेंसेक्स और निफ्टी धड़ाम

Sensex and Nifty break the stock market boom
Sensex and Nifty break the stock market boom

मुंबई। वैश्विक स्तर पर अधिकतर मुख्य सूचकांकों में रही गिरावट और बैंकिंग तथा ऑटो समूह की कंपनियों में रही जबदरस्त बिकवाली से घरेलू स्तर पर शुक्रवार को शेयर बाजार में सेंसेक्स 487 अंक लुढ़क कर 50,792.08 अंक पर और निफ़्टी 144 अंकों की गिरावट के साथ 15,030.95 अंक पर बंद हुआ।

दिन की शुरुआत में बीएसई का सेंसेक्स हालाँकि 381 अंक और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 146 अंक की बढ़त के साथ खुला था लेकिन दिन में हुई बिकवाली से शेयर बाजार में पिछले तीन से जारी तेजी पर ब्रेक लग गया और सेंसेक्स तथा निफ़्टी गिरावट के साथ बंद हुआ।

दिग्गज कंपनियों और मझोली कंपनियों में हुई बिकवाली से बीएसई का मिडकैप जहां 0.45 प्रतिशत घटकर 20,577.21 अंक पर बंद हुआ वही छोटी कंपनियों में हुई लिवाली से स्मॉलकैप 0.14 प्रतिशत की बढ़ोतरी के साथ 21,209.07 अंक पर पहुंच गया।

बीएसई में आज कुल 3185 कंपनियों में कारोबार हुआ जिसमे से 1352 कंपनियों के शेयर हरे निशान में और 1656 कंपनियों के शेयर लाल निशान में बंद हुये जबकि शेष 177 कंपनियों के शेयर दिनभर के उतार-चढ़ाव के बाद अंतत: अपरिवर्तित रहे।

बीएसई का सेंसेक्स आज 381 अंकों की बढ़त लेकर 51,660.98 अंक पर खुला और दोपहर बाद 51,821.84 अंक के उच्चतम स्तर तक पहुंचा। अंत में पिछले दिवस के 51279.51 अंक के मुकाबले 0.95 प्रतिशत यानी 487.43 अंक लुढ़क कर 50,792.51 अंक पर बंद हुआ।

एनएसई का निफ्टी करीब 146 अंकों की बढ़त के साथ 15,321.15 अंक पर खुला। इसका दिवस का उच्चतम स्तर 15,336.30 अंक और न्यूनतम स्तर 14,953.60 अंक रहा। अंत में यह गत दिवस की तुलना में 0.95 प्रतिशत यानी 144 अंक की गिरावट लेकर 15,030.95 पर बंद हुआ। निफ्टी की 50 में से केवल 8 कंपनियों के शेयर चढ़े और 42 के लाल निशान में रहे।

वैश्विक स्तर पर यूरोप और एशिया के मुख्य सूचकांकों में इस दौरान घटबढ़ दर्ज की गई। एशिया में जापान का निक्की 1.73 प्रतिशत और चीन का शंघाई कम्पोजिट में 0.47 प्रतिशत चढ़ा जबकि हांगकांग के हैंगसैंग में 2.20 प्रतिशत की भारी गिरावट दर्ज की गई। वही यूरोप में ब्रिटेन के एफटीएसई में 0.24 प्रतिशत की गिरावट रही तथा जर्मनी के डैक्स में भी 0.63 प्रतिशत की कमी देखी गई।

बीएसई में सेंसेक्स के पावरग्रिड में सर्वाधिक 2.28 प्रतिशत, टाइटन में 0.76, ओएनजीसी में 0.52, इनफ़ोसिस में 0.48 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई।

वही बजाज ऑटो में सर्वाधिक 3.10 प्रतिशत, मारुती में 2.40, आईसीआईसीआई बैंक में 2.06, सनफार्मा में 2.04, रिलाइंस में 1.97, अल्ट्रा सीमेंट में 1.88, स्टेट बैंक में 1.63, डॉरेड्डी में 1.59, इंडसइंड बैंक में 1.57, कोटक बैंक में 1.38, एक्सिस बैंक में 1.33, एशियन पेंट में 1.23, एचडीएफ़सी में 1.21, नेस्ले इंडिया में 1.01, हिंदुस्तान यूनीलीवर में 0.99, महिंदा एंड महिंद्रा में 0.90, एचसीएल टेक में 0.80, बजाज फिनसर्व में 0.68, एलटी में 0.64, आईटीसी में 0.58, टीसीएस में 0.49, टेक महिंद्रा में 0.43, एनटीपीसी में 0.41, भारती एयरटेल में 0.35, एचडीएफ़सी बैंक में 0.27 प्रतिशत तथा बजाज फाइनेंस में 0.02 प्रतिशत की गिरावट रही।