सेंसेक्स 215 अंक और निफ्टी 43 अंक लुढ़का

मुंबई। देश की सबसे बड़ी निजी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज और फ्यूचर समूह के साथ हुए सौदे के खिलाफ अमेजन के पक्ष में सुप्रीमकोर्ट द्वारा निर्णय सुनाए जाने के बाद निराश निवेशकों की बिकवाली के दबाव में कंपनी के शेयर में हुई दो फीसदी से अधिक की बिकवाली से शेयर बाजार में जारी तेजी पर ब्रेक लग गया और सप्ताह के अंतिम दिन गिरावट में बंद हुए।

इसके साथ ही रिजर्व बैंक द्वारा नीतिगत दरों को यथावत बनाए रखने से घर, कार और व्यक्तिगत ऋण के सस्ता होने की उम्मीद धूमिल होने से बैंकिंग, वित्त, एनर्जी, रियलटी, धातु आदि समूहों में निवेशकों की बिकवाली के साथ जिससे भी बाजार पर दबाव बना लेकिन रिलायंस में हुई बिकवाली ने बाजार को गिरावट से उबरने नहीं दिया।

इसके कारण बीएसई का सेंसेक्स 215.12 अंक टूटकर 54277.72 अंक पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज(एनएसई) का निफ्टी 42.60 अंक गिरकर 16252.20 अंक पर रहा। रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर 2.07 प्रतिशत फिसलकर 2089.05 रुपये पर आ गया।

बीएसई में दिग्गज कंपनियों में जहां बिकवाली देखी गयी वहीं छोटी और मझौली कंपनियों में लिवाली का जोर रहा जिसके बल पर बीएसई का मिडकैप 0.23 प्रतिशत बढ़कर 23204.72 अंक पर और स्मॉलकैप 0.28 प्रतिशत चढ़कर 26805.92 अंक पर रहा। बीएसई में कुल 3329 कंपनियों में कारोबार हुआ जिसमें से 1821 हरे निशान में और 1391 लाल निशान में रहा जबकि 117 में कोई बदलाव नहीं हुआ।