अमरीका-चीन की लड़ाई में भारतीय शेयर बाजार धराशायी

Sensex falls 351 points to 33,019, Nifty below 10,150 as US-China trade war

मुंबई। अमरीका और चीन द्वारा आयात शुल्क का ‘व्यापार युद्ध’ के हथियार के रूप में इस्तेमाल करने से आशंकित निवेशकों की बिकवाली के दबाव में घरेलू शेयर बाजार शुरुआती बढ़त खोते हुए बुधवार को गिरावट में बंद हुए।

शेयर बाजार चालू वित्त वर्ष के तीन दिन के कारोबार में पहली बार लुढ़का है। विदेशी बाजारों से मिले कमजोर संकेतों से बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 351.56 अंक की गिरावट में 33,019.07 अंक पर और एनएसई का निफ्टी 116.60 अंक की गिरावट में 10,128.40 अंक पर बंद हुआ।

विश्लेषकों के मुताबिक मौजूदा वैश्विक परिदृश्य जोखिम भरे निवेश के प्रतिकूल बन गया है। एक तरफ आयात शुल्क को लेकर चीन और अमरीका जैसी दो आर्थिक महाशक्तियां टकरा रही हैं तो दूसरी तरफ फेसबुक, अमेजन और एप्पल जैसी कंपनियां दबाव में हैं। फेसबुक यूजर्स डाटा चोरी को लेकर सुर्खियों में है तो अमेजन पर अमरीका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की टेढ़ी नजर है।

एप्पल अपने नए आईफोन की कमजोर बिक्री से परेशान है और गूगल के पास कोई नया उत्पाद नहीं है। टेक कंपनियां शेयर बाजार में काफी हिस्सेदारी रखती हैं और उनकी गिरावट वैश्विक बाजारों के साथ-साथ घरेलू शेयर बाजार के लिए भी घातक है।

शुरुआती कारोबार में ऑटो के अलावा रियल्टी और इंडस्ट्रियल्स के सूचकांक भी बढ़त में थे, लेकिन चीन द्वारा अमरीका के 106 उत्पादों पर 25 फीसदी का आयात शुल्क लगाने की घोषणा के बाद ऑटो के अलावा अन्य सभी 19 समूहों के सूचकांक लुढ़क गए।

निवेशकों को आशंका है कि आने वाले समय में अमरीका और चीन की यह लड़ाई वैश्विक व्यापार युद्ध की शक्ल ले लेगी। निवेशक साथ ही रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक के मद्देनजर भी सर्तकता बरत रहे हैं।

सेंसेक्स गत दो दिनों की बढ़त को बरकरार रखते हुए 56.89 अंक की तेजी में 33,437.52 अंक पर खुला। कारोबार के शुरुआती घंटों में ही यह 33,505.53 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर तक पहुंचा। लेकिन, चीन द्वारा अमरीकी उत्पादों पर आयात शुल्क लगाने की घोषणा के साथ ही यह लुढ़कता हुआ 33,000 अंक के आंकड़े के नीचे उतरकर 32,972.56 अंक के दिवस के निचले स्तर पर आ गया। यह अंतत: गत दिवस की तुलना में 1.05 प्रतिशत टूटकर 33,019.07 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स की मात्र पांच कंपनियाँ हरे निशान में टिक पाईं। शेष 25 कंपनियों के शेयरों में गिरावट रही।

निफ्टी की शुरुआत भी 29.60 अंक की तेजी के साथ 10,274.60 अंक से हुई। यह कारोबार के दौरान 10,279.85 अंक के उच्चतम और 10,111.30 अंक के निचले स्तर से होता हुआ गत दिवस की तुलना में 1.14 फीसदी लुढ़ककर 10,128.40 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी की 42 कंपनियां लाल निशान में और शेष आठ हरे निशान में रहीं।

बीएसई में कुल 2,784 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ, जिनमें 150 के भाव अपरिवर्तित रहे जबकि 1,190 कंपनियों के शेयर में तेजी और 1,444 में गिरावट रही। दिग्गज कंपनियों की तरह छोटी और मंझोली कंपनियों पर भी बिकवाली का दबाव हावी रहा। बीएसई का मिडकैप 0.92 फीसदी यानी 150.04 अंक लुढ़ककर 16,184.97 अंक पर और स्मॉलकैप 1.01 प्रतिशत यानी 178.70 अंक लुढ़ककर 17,449.75 अंक पर बंद हुआ।

विदेशी बाजारों में गिरावट का रुख रहा। यूरोपीय बाजारों में ब्रिटेन का एफटीएसई 0.42 और जर्मनी का डैक्स 1.23 फीसदी की गिरावट में खुला। एशियाई बाजारों में जापान का निक्की 0.13 फीसदी की तेजी में बंद हुआ जबकि हांगकांग का हैंगसेंग 2.19, दक्षिण कोरिया का कोस्पी 1.41 और चीन का शंघाई कंपोजिट 0.15 फीसदी की गिरावट में बंद हुआ।

बीएसई के 20 में से 19 समूहों के सूचकांक में गिरावट देखी गई। ऑटो समूह के सूचकांक में 0.42 फीसदी की तेजी रही। इसके अलावा धातु में 2.75, सीडी में 2.55, पीएसयू में 1.63, बेसिक मटिरियल्स में 2.07, सीडीजीएंडएस में 0.65, ऊर्जा में 0.92, एफएमसीजी में 0.15, वित्त में 1.41, स्वास्थ्य में 1.05, इंडस्ट्रियल्स में 0.86, आईटी में 0.96, दूरसंचार में 1.23, यूटिलिटीज में 1.12, बैंकिंग में 1.63, पूंजीगत वस्तुओं में 1.95, तेल एवं गैस में 1.15, बिजली में 1.30, रिएल्टी में 1.23 और टेक में 1.06 फीसदी की गिरावट रही।

सेंसेक्स की पांच कंपनियाँ टाटा मोटर्स 3.60 फीसदी, हीरो मोटोकॉर्प्स 0.81, हिंदुस्तान यूनीलीवर 0.72, अदानी पोटर्स 0.49 और आईटीसी 0.10 फीसदी की तेजी में रहीं।
टाटा स्टील के शेयरों में सर्वाधिक 3.29 फीसदी की गिरावट रही।

एक्सिस बैंक के शेयर 2.61, एलएंडटी के 2.52, इंडसइंड बैंक के 2.26, कोटक महिंद्रा बैंक के 2.25, यस बैंक के 2.24, एनटीपीसी के 1.86, भारती एयरटेल के 1.78, डॉ. रेड्डीज लैब के 1.77, एचडीएफसी बैंक के 1.63, महिंद्रा एंड महिंद्रा के 1.62, सन फार्मा के 1.62, एचडीएफसी के 1.47, कोल इंडिया के 1.45, भारतीय स्टेट बैंक के 1.38, इंफोसिस के 1.36, एशियन पेंट्स के 1.33, ओएनजीसी के 1.21, पावर ग्रिड के 1.16, बजाज ऑटो के 0.91, विप्रो के 0.81, आईसीआईसीआई बैंक के 0.43, रिलायंस इंडस्ट्रीज के 0.41, मारुति सुजुकी के 0.10 और टीसीएस के 0.04 फीसदी लुढ़के।