शेयर बाजार में जबरदस्त उछाल, सेंसेक्स 36,000 के पार

Sensex Scales 36,000, Nifty Hits 11,000 For First Time
Sensex Scales 36,000, Nifty Hits 11,000 For First Time

मुंबई। अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष द्वारा अगले वित्त वर्ष में भारत की विकास दर 7.4 फीसदी रहने का अनुमान जताने से मंगलवार को घरेलू शेयर बाजार को बल मिला। देश के शेयर बाजार के शुरुआती कारोबार में ही सेंसेक्स 36,000 के मनोवैज्ञानिक स्तर को पार कर गया जबकि निफ्टी 11,000 को मनोवैज्ञानिक स्तर को पार करने में कामयाब रहा।

11.30 बजे सेंसेक्स 207.59 अंकों की मजबूती के साथ 36,005.60 पर जबकि निफ्टी 77.90 अंकों की मजबूती के साथ 11,044.10 पर कारोबार करते देखा गया।

बाजार विश्लेषकों ने कंपनियों की तीसरे तिमाही के सकारात्मक नतीजों, विदेशी पूंजी के निवेश और धातु, तेल एवं गैस, आईटी और बैंकिंग में अधिक खरीदारी को इस मजबूती की वजह बताया।

सेंसेक्स ने अब तक के एकदिनी कारोबार में 36060.71 के ऊपरी स्तर को छू लिया जबकि निफ्टी 11,053.05 के ऊपरी स्तर तक चला गया।

सेंसेक्स में 342 अंकों की तेजी

मुंबई। देश के शेयर बाजारों में मंगलवार को ऐतिहासिक तेजी दर्ज की गई। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 341.97 अंकों की तेजी के साथ 36,139.98 पर और निफ्टी 117.50 अंकों की तेजी के साथ 11,083.70 पर बंद हुए। सेंसेक्स और निफ्टी दोनों ही अबतक की सर्वाधिक तेजी के साथ बंद हुए।

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 70.18 अंकों की तेजी के साथ 35,868.19 पर खुला और 341.97 अंकों या 0.96 फीसदी की तेजी के साथ 36,139.98 पर बंद हुआ। दिनभर के कारोबार में सेंसेक्स ने 36,170.83 के ऊपरी और 35,863.98 के निचले स्तर को छुआ।

बीएसई के मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांकों में भी तेजी रही। बीएसई का मिडकैप सूचकांक 202.23 अंकों की तेजी के साथ 18,078.73 पर और स्मॉलकैप सूचकांक 43.15 अंकों की तेजी के साथ 19,651.16 पर बंद हुआ।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी सुबह 31.2 अंकों की तेजी के साथ 10,997.40 पर खुला और 117.50 अंकों या 1.07 फीसदी की तेजी के साथ 11,083.70 पर बंद हुआ। दिनभर के कारोबार में निफ्टी ने 11,092.90 के ऊपरी और 10,994.55 के निचले स्तर को छुआ।

बीएसई के 19 सेक्टरों में से 18 में तेजी रही। धातु (4.29 फीसदी), तेल और गैस (1.93 फीसदी), बैंकिंग सेवाएं (1.63 फीसदी), ऊर्जा (1.51 फीसदी) और आधारभूत सामग्री (1.34 फीसदी) में सर्वाधिक तेजी रही। बीएसई के केवल एक सेक्टर उपभोक्ता टिकाऊं वस्तुएं (0.33 फीसदी) में गिरावट रही।