अयोध्या में दंगा भड़काने का प्रयास करने वाले सात अरेस्ट

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में रामनगरी अयोध्या में मस्जिदों में आपत्तिजनक पोस्टर चिपका कर दंगा फैलाने का प्रयास करने वाले सात लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

पुलिस महानिरीक्षक कवीन्द्र प्रताप सिंह ने गुरूवार को बताया कि 26 और 27 अप्रैल की रात को अयोध्या के मस्जिदों में आपत्तिजनक पोस्टर, एवं धार्मिक पुस्तक की प्रति डालकर शहर मे दंगा फैलाने की कोशिश करने वाले सात लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया और उनके कब्जे से घटना मे प्रयुक्त वाहन एवं टोपी बरामद की है।

उन्होने बताया कि 26/27 अप्रैल की रात मे शहर अयोध्या के मस्जिद कश्मीरी मोहल्ला, टाटशाह मस्जिद, घोसियाना रामनगर मस्जिद, ईदगाह सिविल लाइन एवं गुलाबशाह दरगाह जेल के पीछे कुछ लोगों ने आपत्तिजनक वस्तु एवं पोस्टर व धार्मिक पुस्तक की प्रति डालकर दंगा फैलाने की कोशिश की थी।

सिंह ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने महेश कुमार मिश्रा,प्रत्युष श्रीवास्तव, नितिन कुमार, दीपक कुमार गौड़ उर्फ गुंजन, बृजेश पाण्डेय,शत्रुघ्न प्रजापति, विमल पाण्डेय को कुमारगंज क्षेत्र में आरटीओ आफिस के निकट से गिरफ्तार किया है।

अभियुक्तों ने पूछताछ में बताया कि महेश मिश्रा इस काम का मुख्य साजिश रहा है और अन्य साथियों के साथ मिलकर हाल ही में दिल्ली में घटित घटना के विरोध में बृजेश पाण्डेय के मकान मे साजिश रची।

महेश मिश्रा ने फ्लैक्स/ पम्पलेट आशीर्वाद फ्लैक्स लालबाग से खरीदा तथा प्रत्युष ने चौक से गुदड़ी जाने वाले दर्रे के नीचे बनी रफीक बुक स्टोर की दुकान से दो धार्मिक पुस्तकें (कुरान शरीफ) एवं पम्मी कैप हाउस राजा गली चौक से टोपी खरीदी। आकाश ने आपत्तिजनक वस्तु लालबाग से उपलब्ध कराया गया।

उन्होने बताया कि सभी लोग चार बाईकों में बैठकर देवकाली बाईपास होकर देवकाली मन्दिर होते हुए बेनीगंज तिराहा पहुंचे जहां पीआरवी की गाड़ी देखकर बेनीगंज मस्जिद पर घटना नहीं कर सके और खुर्दाबाद होकर परिक्रमा मार्ग होते हुए कश्मीरी मोहल्ला मस्जिद में जाकर धार्मिक पुस्तक (कुरान शरीफ) फाड़कर एवं आपत्तिजनक वस्तु तथा पम्पलेट डाला।