हिमाचल में पटाखा फैक्टरी में विस्फोट, सात मजदूरों की मौत

शिमला। हिमाचल प्रदेश के ऊना जिले के टाहलीवाल की पटाखा फैक्टरी में विस्फोट होने से सात कामगार मजदूरों की मौत हो गई है और अन्य 15 से अधिक घायल हो गए। पुनिस अधीक्षक ऊना अर्जित सेन ठाकुर ने इसकी पुष्टि की है।

उन्होंने बताया कि हादसे में सात कामगारों के झुलसने से मौत हो गई जिनमें छह महिलाएं शामिल हैं और अन्य 15 कामगार झुलस गए हैं, जिन्हें उपचार के लिए क्षेत्रीय अस्पताल ऊना भेजा गया है। पुलिस मौके पर छानबीन कर रही है।

उन्होंने बताया कि एक घायल महिला ने बताया कि विस्फोट के समय फैक्टरी में करीब 30 से 35 लोग फैक्टरी में काम कर रहे थे। अचानक जोरदार धमाके के बाद फैक्टरी में आग भड़क गई।

डीएसपी हरोली अनिल पटियाल ने बताया कि सभी पहलुओं की गहनता से जांच की जा रही है। जांच के बाद ही कुछ कहा जा सकता है। उन्होंने बताया कि घायलों में से दस की हालत गंभीर बनी हुई है।

मोदी ने ऊना फैक्ट्री हादसे पर दुख व्यक्त किया

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने हिमाचल प्रदेश के ऊना में एक फैक्ट्री में हुए हादसे में लोगों की मौत पर दुख व्यक्त किया है और पीड़ित परिवारों के लिए अनुग्रह राशि की घोषणा की है।

प्रधानमंत्री कार्यालय ने मंगलवार को एक ट्वीट संदेश में कहा कि हिमाचल प्रदेश के ऊना की एक फैक्ट्री में हुआ हादसा दुखद है। जिन लोगों को इसमें अपनी जान गंवानी पड़ी है, उनके परिजनों के प्रति मेरी गहरी संवेदनाएं। इसके साथ ही मैं हादसे में घायल सभी लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं।

एक अन्य ट्वीट में कहा गया हैै कि हिमाचल प्रदेश में हुए दुखद फैक्ट्री हादसे जान गंवाने वालों के परिजनों को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से दो-दो लाख रूपए तथा घायलों को 50-50 हजार रूपए की अनुग्रह राशि दी जाएगी।