सिख गुरुओं की मूर्तियां बेचने पर एमजॉन और फ्लिपकार्ट को नोटिस

अमृतसर। आनलाइन बिक्री करने वाली वैबसाइट एमजॉन और फ्लिपकार्ट द्वारा श्रीगुरु नानक देव की मूर्तियां बेचने का शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक समिति ने बहुत गंभीरता से लिया है। समिति ने एमजॉन और फ्लिपकार्ट को कानूनी नोटिस भेजा है।

शिरोमणि समिति के प्रधान भाई गोबिन्द सिंह लोंगोवाल ने सोमवार को बताया कि सिख सिद्धांतों का उल्लंघन करने वाली इन कंपनियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि इससे पहले भी एमजॉन ने पवित्र स्थान सच्चखंड श्री हरिमन्दर साहब की तस्वीर की तौहीन की थी जिसके लिए एसजीपीसी की ओर से कार्रवाई करने पर कंपनी ने माफी मांग ली थी।

भाई लोंगोवाल ने कहा कि सिख धर्म में मूर्ति पूजा नहीं की जाती। केवल गुरु साहिबान के पवित्र उपदेशों (गुरबानी) को ही माना जाता है। उन्होंने कहा कि इन कंपनियों ने अपनी वेबसाइटाें से गुरु साहिबान की मूर्तियां नहीं हटाई तो उनके खिलाफ सिविल और फौजदारी कार्रवाई की जाएगी।