खेतेश्वर सोसायटी के मुख्य कर्ताधर्ता शैतानसिंह को यूं पकडा, यह बताया नुकसान का कारण

sirohi, pali
kheteshwar arban society pro shaitansingh rajpurohit in takhatgarh police custody

सबगुरु न्यूज-पाली/तखतगढ/सिरोही़। सिरोही समेत राजस्थान के पांच जिलों और गुजरात व महाराष्ट्र में संचालित खेतेश्वर अरबन को-आॅपरेटिव सोसायटी के मुख्य कर्ता-धर्ता और अंतिम नामजद संचालक शैतानसिंह राजपुरोहित को पाली जिले के तखतगढ पुलिस ने गुरुवार को जोधपुर से गिरफ्तार कर लिया।

पूछताछ के दौरान शैतानसिंह ने पुलिस को बताया कि सोसायटी में जमा निवेशकों के पैसों को उन्होंने प्राॅपर्टी का काम करने वाली अपनी एक अन्य सोसायटी में लगाया। वहां नुकसान होने से पैसा डूब गया। इससे पहले भी सिरोही में कई सोसयटियां डूबी, इनके डूबने का कारण भी निवेशकों की जमा पूंजी को अंधाधुंध तरीके से रीयल एस्टेट में निवेश कर दिया गया।

सोसायटी की 5 राज्यों में कुल 45 शाखाए थी। इसमें जमा 100 करोड़ रुपए से ज्यादा की धोखाधडी करने के कई मामले आबूरोड, सिरोही पाली ओर गुजरात में कई प्रकरण दर्ज हैं।

तख्तगढ एसएसओ सुरेश सारण ने बताया कि पाली जिले में विभिन्न सोसायटियो के संचालको द्वारा आम लोगो को प्रलोभन देकर उनकी सोसायटियो मे धन निवेश करने हेतु प्रेरित किया। जिस पर आम लोगो द्वारा सोसायटियो में करोडो रूपये निवेश किये।

इन रुपयांे को सोसायटी के संचालकों द्वारा धोखाधडी कर रुपये हडपने के संबंध मे थानों में सैकडांे प्रकरण दर्ज हैं। खेतेश्वर अरबन क्रेडिट को-ओपरेटिव सोसायटी लिमिटेड मल्टी स्टेट के संचालकों द्वारा राजस्थान, गुजरात, महाराष्ट्र, दादर व नगर हवेली तथा दमन व दीव में कुल 45 शाखाएं खोली गई थी। इनमें आम लोगो द्वारा निवेश किये करोडो रुपयो को धोखाधडी कर हडप कर सोसायटी के संचालक करीब दो वर्ष से फरार चल रहा था।

पाली के पुलिस अधीक्षक दीपक भार्गव ने सोसायटियांे के विरुद्ध दर्ज प्रकरणों में में मुख्य आरोपी पाली जिले के खिवाडा तहसील के गांव पिलोवनी हाल पालडी एम निवासी शैतानसिह पुत्र रामसिह राजपुरोहित की गिरफ्तारी के लिए तखतगढ थानाधिकारी सुरेश सारण को विशेष निर्देश दिए गए।

तखतगढ थाने में सोसायटी के खिलाफ नौ प्रकरण दर्ज हैं। शैतानसिंह की तलाशी में पुलिस ने जी जान लगाई। उसके रहने के स्थान का पता करना शुरू किया। इसी दौरान शैतानसिंह का मोबाईल न. 9602467716 मालूम पड गया। बाद में पुलिस ने उसे ट्रेस करके जोधपुर से गिरफ्तार कर लिया।

हनुमान जी की पूजा करने जाते वक्त धराया

पुलिस को सूचना मिली कि शैतानसिह जोधपुर में ही रहता है। पुलिस की पकड में आने से बचने के लिए रोज अपने रहने की जगह बदलता है। हर रोज अपना स्थान बदल लेता है। पुलिस को 21 जून को भी शैतानसिंह के जोधपुर में सोजती दरवाजा स्थित एक होटल में ठहरने की सूचना मिली।

पुलिस को यह भी पता पडा की वह हनुमान भक्त है और प्रतिदिन हनुमान मंदिर जाता है। ऐसे में सोजती गेट के होटल के पास स्थित हनुमान मंदिर पर थानाधिकारी ने एचसी लक्ष्मणसिह, कांस्टेबल आसूराम व हुकमसिह के साथ प्राईवेट वाहन से सुबह 6 बजे सोजती गेट के पास स्थित हनुमान मंदिर से उसे दस्तियाब कर लिया। जिसे शिनाख्तगी व जांच के बाद गिरफ्तार कर लिया गया।

इन स्थानों में दर्ज हैं इतने प्रकरण

श्री खेतेश्वर अरबन क्रेडिट को-ओपरेटीव सोसायटी लि. मल्टी स्टेट के संचालको के विरूद्ध जिला पाली में कुल 14, जिला सिरोही मे 28 व जालोर मे एक प्रकरण दर्ज है। इसके अलावा गुजरात, महाराष्ट्र, दादर व नगर हवेली तथा दमन व दीव मे दर्जनों प्रकरण दर्ज हैं।

खेतेश्वर अरबन क्रेडिट को-ओपरेटीव सोसायटी लि. मल्टी स्टेट के अध्यक्ष-विक्रमसिंह को सिरोही पुलिस ने जोधपुर से तथा व राजवीरसिह राजपुरोहित आबूरोड पुलिस ने पहले ही गिरफ्तार कर लिया है।

ऐसे निकला सोसायटी से पैसा

वैसे शैतानसिंह राजपुरोहित सोसायटी के पीआरओ थे। लेकिन, पूर्व में सिरोही पुलिस द्वारा गिरफ्तार इनके दो भाइयों ने पुलिस को बताया था कि पैसों का निवेश का काम शैतानसिंह ही देखता था। थानाधिकारी सुरेश सारण ने बताया कि शैतानसिह ने 2012 में यूनिवर्सल मल्टी परपज सोसायटी मल्टी स्टेट खोली।

इसका चेयरमैन वह खुद था। उसने खेतेश्वर सोसायटी में निवेश की गई राशि को हडपने की नीयत से सोसयटी से अपनी रीयल एस्टेट के धंधा करने वाली सोसायटी में ऋण लिया। इसके बाद इस राशि से कई जगह पर संपत्तियां खरीदी। उन्होने बताया कि राज्य व अन्य राज्यों में यूनिवर्सल मल्टी परपज सोसायटी मल्टी स्टेट द्वारा खरीदी गई प्रापर्टी को पुलिस द्वारा कुर्क करने की कार्रवाई भी अंजाम दिया जाएगा।

सिरोही पुलिस लेगी प्रोडक्शन वारंट पर

शैतानसिंह राजपुरोहित के दो भाइयों को सिरोही पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है। इनसे मिली सूचनाओं के अनुसार खेतेश्वर में निवेश किए गए पैसों को लेनेदेन शैतानसिंह ही करता था। सिरोही पुलिस अधीक्षक ओमप्रकाश ने बताया कि अब पाली पुलिस से शैतानसिंह को प्रोडक्शन वारंट पर लिया जाएगा।