अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद के चेयरमैन पद से हटे शशांक मनोहर

दुबई। भारत के शशांक मनोहर चार साल तक अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) के चेयरमैन रहने के बाद उस पद से हट गए हैं और उप चेयरमैन इमरान ख्वाजा अगले सप्ताह तक मनोहर का उत्तराधिकारी चुने जाने तक अंतरिम अध्यक्ष का पद संभालेंगे।

आईसीसी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी मनु साहनी ने बुधवार को यह जानकारी दी। मनोहर ने 2016 में यह पद संभाला था। मनु साहनी ने कहा कि आईसीसी बोर्ड और स्टाफ तथा पूरे क्रिकेट समुदाय की तरफ से, मैं शशांक का उनके नेतृत्व और चेयरमैन के रूप जो कुछ उन्होंने किया, उसका धन्यवाद करना चाहता हूं। हम उन्हें और उनके परिवार को भविष्य के लिए शुभकामनाएं देना चाहते हैं।

मनोहर 2016 में निर्विरोध आईसीसी के चेयरमैन चुने गए थे और 2018 में भी उन्हें दो साल के लिए निर्विरोध चुना गया था। अपने कार्यकाल के पहले दो साल में मनोहर ने आईसीसी के प्रशासनिक ढांचे और वित्तीय मॉडल में परिवर्तन देखे, हालांकि उन्हें भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) से कड़े विरोध का सामना करना पड़ा था। 2018 में जब चुनाव का समय था तब आईसीसी के निदेशकों ने उन्हें एकमात्र उम्मीदवार के रूप में पेश किया था।

ख्वाजा ने कहा कि आईसीसी बोर्ड में हर कोई शशांक को खेल के प्रति उनकी प्रतिबद्धता के लिए धन्यवाद देना चाहता है। इस बात में कोई संदेह नहीं कि क्रिकेट शशांक का ऋणी है। वह जब अपना पद छोड़ रहे हैं तब उन्होंने क्रिकेट और आईसीसी को बेहतर हालात में पहुंचा दिया है।

मनोहर का कार्यकाल समाप्त होने के बाद इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) के अध्यक्ष कोलिन ग्रेव्स आईसीसी चेयरमैन पद के लिए सबसे प्रबल दावेदार माने जा रहे हैं। ग्रेव्स पहले ही घोषणा कर चुके हैं कि वह तीन अगस्त को ईसीबी अध्यक्ष का पद छोड़ देंगे। क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका के अध्यक्ष क्रिस नेंजानी भी इस होड़ में माने जा रहे हैं।