राजस्थान के चुनावी समर में शिवसेना भी दिखाएगी दमखम

अजमेर। राजस्थान विधानसभा चुनावों में इस बार शिवसेना भी दमखम के साथ उतरेगी। इसके लिए पार्टी ने अभी से तैयारी में जुट गई है। चुनावी रणनीति के तहत शनिवार को शिवसेना के राजस्थान प्रभारी राजकुमार बाफना मुंबई से अजमेर पहुंचे।

बाफना के केसरगंज चांदबावडी स्थित काली मंदिर में आयोजित सम्मेलन स्थल पर पहुंचते ही शिवसैनिकों ने बाला साहब अमर रहे, शिवसेना जिंदाबाद के नारे लगाए। पूर्व राज्य प्रमुख प्रमोद चतुर्वेदी, मुन्नालाल शर्मा, संजय श्रीवास्तव, सुनील गौड, सुरेश चौहान, ब्यावर के उम्मेद शर्मा, विजय पंडित ने पुष्प वर्षा कर स्वागत किया।

सम्मेलन में बाफना व राज्य प्रमुख राजकुमार गोयल ने अपने उदबोधन में शिवसेना नेता उद्धव ठाकरे व उपनेता आदित्य ठाकरे के संदेश को शिवसैनिकों को बताते हुए कहा कि संपूर्ण देश में भाजपा से अलग होकर शिवसेना 2018 व 2019 में होने वाले विधानसभा चुनाव लडेगी।

राजस्थान ही नहीं अपितु संपूर्ण देश में शिवसेना पूरी ताकत के साथ उतरेगी। उन्होंने राजस्थान के आगामी चुनावों के मद्देनजर शिवसैनिकों को अभी से कमर कस लेने का आहवान करते हुए कहा कि राजस्थान की जनता बीजेपी और कांग्रेस के अदल बदल कर आने वाले से उब चुकी है। अब शिवसेना विकल्प बनकर जनता के सामने होगी।

उन्होंने चुनावी रणनीति का जिक्र करते हुए कहा कि पार्टी के सांसद, विधायक, शिवसेना नेता, उपनेता शीघ्र ही राजस्थान का दौरा करेंगे। वे यहां के हर विधानसभा क्षेत्र में जाएंगे और शिवसेना उम्मीदवारों को विजय बनाने तथा भगवा परचम लहराने में कोई कोर कसर नहीं छोडेंगे।

पूर्व राज्य प्रमुख प्रमोद चतुर्वेदी ने अपने क्रांतिकारी अंदाज में देश, प्रदेश के मुद्दों के अलावा राज्य व केन्द्र सरकार की योजनाओं की धज्जियां उडाते हुए कहा कि इन योजनाओं की सिर्फ कागजी खानापूति हो रही है, धरातल पर कुछ होता नहीं दिखता। बेरोजगारी और अपराध चरम सीमा पर है। हिन्दुत्व की बात करने वाले राष्ट्र रक्षा की दुहाई देने वालों के हाथों शासन होने के बाद भी हिन्दुत्व खतरे में पड गया। इनकी नीतियों और सत्ता लालुपता ने जनता को मुश्किलों और परेशानियों में डाला हुआ है।

इन विपरीत हालातों में शिवसैनिकों का दायित्व बनता है कि हिन्दी, हिस्दुस्तान, गौवंश, धार्मिक स्थानों की रक्षार्थ, अनीति के अंत, भ्रष्टाचार के खात्मे, के साथ निरोगी और शिक्षित प्रदेश और देश का निर्माण करना है। हमें शिवसेना प्रमुख बाला साहब ठाकरे के सपनों को साकार करते हुए हिन्दुओं को सुरक्षित कर हिन्दुस्तान को हिन्दूराष्ट्र बनाना है।

इससे पहले जयपुर एयरपोर्ट पर राज्य उप प्रमुख दिनेश बोहरा, बद्रीनारायण बेडसा, राज्य प्रमुख राजकुमार गोयल, राज्य सचिव राजेश यादव, राजेन्द्र मेघवाल, सह सचिव रमेश चंद सैनी, कार्यालय प्रभारी रामअवतार जांगिड, सैकडों शिवसेना पदाधिकारियों तथा कार्यकर्ताओं ने राज्य प्रभारी का गर्मजोशी से स्वागत किया।

जयपुर से कारों के काफिले के साथ रवाना हुए बाफना का अजमेर जिले की सीमा में दाखिल होने पर प्रदेश सचिव एडवोकेट मुन्नालाल शर्मा व अजमेर जिला प्रमुख नरेन्द्र सिंह राजावत के नेतृत्व में शिवसैनिकों ने गर्मजोशी से स्वागत किया।

किशनगढ नगर के प्रमुख मार्गों से होता हुए कारों के काफिले ने अजमेर में शहर में प्रवेश किया जो घूघरा घाटी, सेशन कोर्ट, सेन्ट्रल जेल, बस स्टेंड, कचहरी रोड, मदारगेट, स्टेशन रोड, क्लाक टावर, केसरगंज होते हुए चांद बावडी स्थित काली मंदिर पहुंचा।